जागरण संवाददाता, टांडा : वाल्मीकि प्रकट दिवस के अवसर पर भावाधस की ओर से शोभायात्रा निकाली गई। जो मढ़ी मंदिर से होकर वाल्मीकि बस्ती में मंदिर पर समाप्त हुई। शोभायात्रा में शामिल झांकियां आकर्षण का केंद्र रही। शोभायात्रा के कारण मुख्यमार्ग पर कई किमी लम्बा जाम लग गया।

शोभायात्रा से पूर्व प्रताप सिंह चौहान ने दीप प्रज्वलित किया। कोतवाली प्रभारी दुर्गा सिंह ने फीता काटकर शोभायात्रा का शुभारम्भ किया। शोभायात्रा में वाल्मीकि डोला, कमल के फूल पर लव-कुश के साथ भगवान वाल्मीकि, कबूतर पर बैठे श्रीकृष्ण, काली का अखाड़ा, झूले पर लव-कुश तथा भूत आदि की झांकियां लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र रही। झांकी मढ़ी मंदिर से होकर रामलीला मैदान और इसके बाद वाल्मीकि बस्ती में वाल्मीकि धर्मशाला पर समाप्त हुई। इस बीच झांकियों के चलते नगर में मुख्य मार्ग पर कई किमी लंबा जाम लग गया, जिससे दैनिक यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। भावाधस तहसील अध्यक्ष सुदीश कुमार वाल्मीकि, संरक्षक संजय चौधरी, रोहताश वाल्मीकि, भाजपा किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष प्रताप सिंह चौहान, भाजपा महिला मोर्चा की नगराध्यक्ष राममूर्ति देवी, सभासद तरुण सैनी, हिन्दू जागरण मंच के अतुल गुप्ता, शंकर सैनी, लोकमन सैनी, आशीष वाल्मीकि, शुभम, वासु, मोहित मरदान, विशाल, राहुल, विनीत, अनूप मरदान, राहुल कटेरिया, गुड्डू, रेनु, मनोज, विनोद, दिनेश, नरेश आदि रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप