बिलासपुर : खेमरी-नवाबगंज मार्ग पर किसी वाहन की टक्कर से स्कूटी सवार युवक की मौके पर मौत हो गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है।

राजस्थान जयपुर अजमेर के गांव अनोपपुरा निवासी मालूराम नारोलिया के 25 वर्षीय पुत्र श्यामबाबू नारोलिया गांव नवाबगंज स्थित पीएचसी पर कम्युनिटी हेल्थ आफिसर (सुपरवाइजर) के पद पर तैनात था।। चिकित्सा अधीक्षक डॉ देवेंद्र कुमार वमर के मुताबिक वह शनिवार सवेरे खेमरी आदि गांवों में स्वास्थ्य विभाग के बारे में ग्रामीणों को जानकारी देकर पीएचसी पर स्कूटी से जा रहा था। खेमरी-नवाबगंज मार्ग पर किसी वाहन चालक ने स्कूटी में टक्कर मारकर रौंद दिया। उसकी घटनास्थल पर मौत हो गई। दुर्घटना के पश्चात राहगीरों समेत आसपास के ग्रामीणों की भीड़ एकत्र हो गई। सूचना पाकर कोतवाल माधो सिंह बिष्ट पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस द्वारा उसकी तलाश लेने पर उसके कब्जे से मिले आईडी कार्ड के अनुसार उसकी शिनाख्त हो सकी। बाद में पुलिस ने शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है। चिकित्सा अधीक्षक ने बताया कि मृतक सुपरवाइजर की ढाई माह पहले ही गांव नवाबगंज में तैनाती हुई थी। मृतक के परिजनों को सूचना दे दी है। उधर, प्रत्यक्षदशिर्यों का कहना है कि अगर युवक ने हेलमेट पहना होता, तो शायद उसकी जान बच सकती थी। हेलमेट न होने की वजह से उसके सिर पर गंभीर चोट लगने से उसकी मौके पर मौत हो गई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप