जागरण संवाददाता, रामपुर : देशवासियों का सैकड़ों वर्ष पुराना श्री राम मंदिर का सपना पांच अगस्त को भूमि पूजन के साथ साकार होने जा रहा है। इस उत्सव में पूरा देश शामिल है। रामपुर के मुसलमानों ने भी श्री राम मंदिर निर्माण की मांग की थी। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के बैनर तले रामपुर के मुसलमान श्री राम मंदिर निर्माण के समर्थन में दिल्ली में जंतर-मंतर पर धरने में शामिल हुए थे।

इस धरने में शामिल होने वाले मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के रुहेलखंड प्रांत संयोजक फैसल मुमताज का कहना है कि मंच के नेतृत्व में देशभर के मुसलमानों ने जंतर-मंतर पर धरना-प्रदर्शन किया था और भव्य श्री राम मंदिर निर्माण की मांग की थी, जिसमें रामपुर के मुसलमान भी शामिल हुए थे। मंच ने श्री राम मंदिर निर्माण में सहयोग करने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर जन-जागरण अभियान चलाया था। पदाधिकारियों के द्वारा देशभर में यात्राएं की गईं। ये यात्रा रामपुर भी आई, जिसे प्रमुख राष्ट्रीय संयोजक मुहम्मद अफजाल, मंच की तरफ से बनाई गई श्री राम मंदिर कमेटी के वाइस चेयरमैन इस्लाम अब्बास, प्रदेश संयोजक हाजी जहीर अहमद ने नगर एवं तहसीलों में सभाएं की थीं। इस दौरान लोगों का समझाया गया कि अयोध्या में भगवान श्री राम का जन्म हुआ। उस जगह श्री राम मंदिर ही बनना चाहिए। मुसलमानों को चाहिए बाबर के अपराध को धिक्कारें, देश के मुसलमान दिल बड़ा करते हुए आएं और श्री राम मंदिर बनवाने में अपना सहयोग करें। हदीस यह कहती ही जहां विवाद हो, उस जगह इबादत नहीं हो सकती।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस