रामपुर : दीपावली पर्व नजदीक आते ही खाद्य विभाग सक्रिय हो गया है। जिलाधिकारी रविद्र कुमार मांदड़ के निर्देश पर विभागीय अधिकारियों ने मिलावटी मिठाइयों की बिक्री रोकने को छापामार अभियान शुरू कर दिया है। मंगलवार को पहले दिन दोनों टीमों ने टांडा और खौद क्षेत्र में छापेमारी कर मिठाइयों, मैदा, आयल आदि के सात नमूने भरे।

छापेमारी से मिठाई विक्रेताओं में हड़कंप मच गया। टांडा में एसडीएम डा. ज्योति गौतम के नेतृत्व में खाद्य विभाग की टीम ने सदर बाजार व रामपुर मार्ग चौराहे पर मिठाई की तीन दुकानों से मीठे के सैंपल लिए। खाद्य विभाग की छापेमारी से मिठाई विक्रेताओं तथा होटल संचालकों में हड़कंप मच गया। कुछ दुकानदार दुकानों के शटर गिराकर खिसक लिए।

जिला अभिहित अधिकारी आनंद देव ने बताया कि दीपावली तक अभियान जारी रहेगा। इसके लिए दो टीमें बनाई हैं। एक टीम में खाद्य सुरक्षा अधिकारी विजयानंद, शैलेंद्र और ओम प्रकाश हैं, जबकि दूसरी टीम में राम प्रताप, नीरज और अरविद शामिल हैं। पहले दिन टीमों ने

टांडा से बर्फी के दो नमूने लिए, जबकि एक नमूना सोन पापड़ी का भरा। टीम ने खौद के पास ग्राम पैगा में भजन लाल के कारखाने पर भी छापा मारा। यहां बड़ी मात्रा में सोन पापड़ी तैयार की जा रही थी। यहां टीम ने पाम आयल, सोन पापड़ी और मैदा का नमूना लिया। इसके अलावा खौद चौराहा से एक मिठाई की दुकान से भी लौंज का नमूना भरा। इन नमूनों को जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा जाएगा। जो नमूने जांच में फेल होंगे, उसमें संबंधित दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran