रामपुर : नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हुए बवाल के आरोप में पुलिस ने छह अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें एक के पास अवैध पिस्टल भी मिली है। पुलिस ने सभी को जेल भेज दिया है। बवाल में जेल जाने वालों की संख्या अब 34 हो गई है। नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में 21 दिसंबर को शहर के लोग सड़कों पर आ गए थे। पुलिस ने हाथीखाना चौराहे पर उन्हें रोकने का प्रयास किया तो भीड़ हिंसक हो गई थी। भीड़ में शामिल उपद्रवियों ने पुलिस कर्मियों से मारपीट की थी। पथराव किया था।

 अब तक 28 लोगों को पुलिस भेज चुकी है जेल  

 भोट थाना प्रभारी की जीप और छह बाइक को आग के हवाले कर दिया था। इस ङ्क्षहसा में गोली लगने से मुहल्ला तालाब मुल्ला एरम के फैज खां की मौत हो गई थी। पुलिस ने इस बवाल में तीन मुकदमे दर्ज किए थे। इनमें दो मुकदमे शहर कोतवाली में हुआ था, जबकि एक गंज कोतवाली में। पुलिस इस मुकदमे में 28 लोगों को गिरफ्तार करके जेल भेज चुकी है। पुलिस अन्य आरोपितों की पहचान कर उनकी गिरफ्तारी के प्रयास कर रही थी, जिसमें बुधवार को पुलिस को सफलता मिली।  

एक के पास से मिली 32 बोर की पिस्टल  

शहर कोतवाली पुलिस ने बवाल के आरोप में छह लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें मुहल्ला खटकान का सिम्मी खां उर्फ दिलदार पुत्र दिलावर, मुहल्ला घेर सलामत खां बुढिय़ा की दुकान निवासी नदीम पुत्र बब्बू खां, शहर कोतवाली स्थित पुरानी सब्जी मंडी निवासी कायम मियां पुत्र मोहम्मद मियां, मुहल्ला मैग्जीन बरेली गेट का आमिर पुत्र रफीक छुट्टन, मुहल्ला नई बस्ती सतूने संग पहाड़ी गेट निवासी नाजिम पुत्र नवी और मुहल्ला गाड़ीवालान निवासी जाहिद पुत्र इस्माइल हैं। शहर कोतवाल राजकुमार शर्मा ने बताया कि आरोपित नदीम पुत्र बब्बू के कब्जे से नाजायज पिस्टल 32 बोर भी मिली है। सभी आरोपितों को कोर्ट के आदेश पर जेल भेज दिया है। अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। 

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस