मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

रामपुर : अखिल भारतीय मुस्लिम महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष फरहत अली खां ने कहा है कि माथे पर तिलक लगाना भारतीय परंपरा का हिस्सा है। मैं जितनी इज्जत टोपी की करता हूं, उतना ही सम्मान मेरे दिल में तिलक के लिए भी है। मैं एक राष्ट्रवादी मुसलमान हूं, इसलिए अपनी जान दे सकता हूं, लेकिन वंदे मातरम, भारत माता की जय या भारतीय परंपराओं का पालन करना नहीं छोड़ सकता। यह बात उन्होंने प्रेस नोट में कही है।

भारतीय जनता पार्टी के एक कार्यक्रम में फरहत अली खां के माथे पर तिलक लगाए जाने को लेकर ऑल इंडिया मजलिसे इत्तेहादुल मुस्लमीन के जिलाध्यक्ष ने आक्रोश जताया था। संगठन का कहना था कि भारतीय जनता पार्टी द्वारा मुस्लिम समाज के महिला-पुरुषों को रुपयों और नौकरियों का लालच देकर लुभाया जा रहा है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप