जागरण संवाददाता, बिलासपुर : क्षेत्र के सिकरौरा गांव में पिटाई से घायल हुई युवती की इलाज के दौरान मौत हो गई। मृतका के परिजनों द्वारा आरोपित के खिलाफ तहरीर देने के बावजूद पुलिस दोनों पक्षों में समझौता कराने में जुटी रही।

गांव निवासी रिकू के मुताबिक चार दिन पहले शुक्रवार को उसकी मानसिक रूप से कमजोर 21 वर्षीय बहन पिकी पड़ोस में रहने वाले रामरतन के घर चली गई थी। उसकी बहन को डंडा एवं ईंट मारकर घायल कर दिया। उसकी चीख-पुकार पर परिजनों समेत अन्य पास पड़ोसी मौके पर एकत्र हो गए। घायल को प्राइवेट चिकित्सक के यहां भर्ती कराया। इलाज कराकर वापस गांव ले आए। लेकिन, रविवार की रात घायल युवती की मौत हो गई। सूचना पर कोतवाल माधो सिंह बिष्ट पुलिस बल के साथ गांव में पहुंचे। पुलिस कार्रवाई करने की बजाय दोनों पक्षों में समझौता कराने में जुट गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है। मृतका के भाई ने बताया कि पिटाई से उसकी बहन का एक पैर टूट गया। उसके सीने में भी चोट लग गई थी।

कोतवाल के मुताबिक मामले में कोई तहरीर नहीं आई है। कहा कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस