जागरण संवाददाता, शाहबाद : दहेज में एक लाख रुपये नहीं दिए तो दहेजलोभियों ने विवाहिता की हत्या कर दी। मायके वालों ने पति समेत चार लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने शव का पंचनामाभर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा है।

ग्राम नरसरा थाना बिलारी निवासी वीरेंद्र ने अपनी पुत्री पिकी की शादी तीन नवंबर 2017 को हिदू रीति रिवाज के अनुसार क्षेत्र के ग्राम जयडौली निवासी सुखपाल पुत्र बादशाह सिंह से किया था। शादी में हैसियत के अनुसार दान दहेज भी दिया था। आरोप है कि शादी के बाद से ही ससुराल वाले दहेज में एक लाख रुपये की अतिरिक्त मांग और करने लगे। मांग पूरी न करने पर उनकी पुत्री के साथ मारपीट कर प्रताड़ित किया जाने लगा। जान से मारने की धमकी भी दी जाने लगी। 21 जनवरी की रात को पिकी के पति सुखपाल, सास शीतल, जेठ महीपाल एवं जेठानी नीरज ने मिलकर पिकी की हत्या कर दी। सूचना पर मायके पक्ष के लोग जयडौली पहुंचे। पुलिस को पिकी की दहेज हत्या करने की सूचना दी। सूचना पर पुलिस ने शव का पंचनामाभर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा है। पुलिस ने तहरीर के आधार पर पति, सास, जेठ व जेठानी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस