रामपुर: श्रावण मास में शिव की आराधना का विशेष महत्व है। सावन के चौथे सोमवार पर शिव मंदिरों में जलाभिषेक करने के लिए हरिद्वार और ब्रजघाट से जल भरकर लाए कांवड़ियों के जत्थे शहर से गुजरने लगे हैं।

शनिवार को सुबह से ही बरेली की ओर जाने वाले कांवड़ियों के जत्थे बम-बम भोले, हर-हर महादेव के जयकारों के साथ हाईवे से गुजरे। इस दौरान धार्मिक गीतों पर कुछ कांवड़िये डांस करते हुए शहर से गुजरे।

सावन माह के प्रत्येक सोमवार को शिव मंदिरों में शिव¨लग पर जलाभिषेक के लिए कांवड़ियों के साथ ही श्रद्धालुओं की भीड़ जुटती है। इसके लिए कई दिन पहले से ही कांवड़िये हरिद्वार, ब्रजघाट आदि स्थानों पर गंगाजल लेने के लिए जत्थों के साथ निकल पड़ते हैं। इस बार भी सावन के चौथे सोमवार को शिवालयों में कांवड़ चढ़ाने के लिए जिले से काफी संख्या में कांवड़ियों के जत्थे हरिद्वार, ब्रजघाट गए हैं, जो रविवार की शाम तक कांवड़ लेकर लौटेंगे, जो सोमवार को जिले के विभिन्न शिव मंदिरों पंजाबनगर, भमरौआ, रठौंडा आदि में कांवड़ चढ़ाएंगे। इसके अलावा बरेली, शाहजहांपुर की ओर कांवड़ चढ़ाने वाले कांवड़ियों के जत्थे पूरे दिन र्हइवे से गुजरते रहे। फोटो चुंगी चौराहे, आंबेडकर पार्क, रोडवेज आदि स्थानों पर कांवड़ियों ने विश्राम किया। कुछ देर आराम करने के बाद कांवड़ियों के जत्थे बरेली की ओर रवाना हो गए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप