जागरण संवाददाता, रामपुर : नगर पालिका की ओर से सोमवार को किले के आसपास अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया गया। यहां पर अवैध रूप से बने खोखों को जेसीबी से तुड़वाया गया। इस दौरान व्यापारियों ने विरोध भी किया। इसपर कुछ लोगों को दो दिन के अंदर अतिक्रमण हटाने की चेतावनी दी गई। कहा अगर दो दिन में अतिक्रमण नहीं हटा तो जेसीबी से ध्वस्त करने की कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि शहर की सड़कों पर जगह-जगह लोगों ने अतिक्रमण कर रखा है, जिसके कारण सड़कों पर निकलने का रास्ता काफी तंग हो जाता है। कई स्थानों पर तो लोगों को रोजाना काफी देर जाम में फंसना पड़ता है, जिससे गंतव्य तक पहुंचने में लोगों का काफी समय बर्बाद होता है। इससे लोगों को काफी दिक्कत होती है। शहर के लोग सड़कों को अतिक्रमण मुक्त कराने के लिए समय-समय पर प्रदर्शन करते रहते हैं। इसको संज्ञान में लेकर नगर पालिका की ओर से पिछले कुछ समय से अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया जा रहा है। पनबड़िया और ज्वालानगर की सड़कों पर पहले काफी अतिक्रमण रहता था, जिसके कारण आए दिन जाम की समस्या से लोगों को काफी दिक्कत होती थी। यहां पर सड़कों पर से अतिक्रमण हटवाकर वाहनों के खड़े करने के लिए अलग से स्थान बनवाया गया है, जिससे यहां पर जाम की समस्या दूर हो गई है। वहीं शहर में अभी कुछ स्थानों पर लोगों ने अतिक्रमण कर रखा है।

सड़कों को जाम से मुक्ति दिलाने के लिए सोमवार को एसडीएम सदर प्रेम प्रकाश तिवारी, नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी इंदू शेखर मिश्रा जेसीबी और पुलिस फोर्स के साथ मुहल्ला गुइया तालाब पर पहुंचे और किले की दीवार से सटे खोखे हटवाए। इसी दौरान उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के जिलाध्यक्ष शैलेंद्र शर्मा व्यापारियों के साथ मौके पर पहुंच गए। उन्होने अचानक खोखे तोड़ने पर ऐतराज जताया। कहा कि इनका आवंटन है। इसपर एसीएम ने उन्हे दो दिन में सारे पेपर दिखाने को कहा। एसडीएम का कहना है कि अगर शासन से आवंटन है तो उसे नहीं तोड़ा जाएगा। ईओ ने बताया कि वहां पर चार-पांच खोखे थे, जिसे ध्वस्त कराया गया। इसके अलावा कुछ लोगों को अतिक्रमण हटाने के लिए दो दिन का समय दिया गया है। शहर की सड़कों पर लगने वाले जाम से लोगों को निजात दिलाने के लिए अतिक्रमण हटाओ अभियान आगे भी जारी रहेगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस