जागरण संवाददाता, टांडा : दहेज की मांग पूरी न करने पर महिला के साथ ससुरालियों ने पीटा एवं मिट्टी का तेल उड़ेलकर जलाने का प्रयास किया। बाद में पति ने तीन तलाक दे दिया। महिला ने पति समेत 11 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

कोतवाली क्षेत्र के गांव निवासी महिला का कहना है कि उसका विवाह मुस्लिम रीति रिवाज से गत 24 फरवरी को रुद्रपुर उत्तराखंड प्रीति विहार निवासी मोहम्मद शाबान से हुआ था। उसके पिता ने हैसियत के अनुसार सामान दिया था। विवाह में करीब आठ लाख रुपये खर्च हुए थे। कुछ समय तक सब ठीक चलता रहा। बाद में ससुराल वाले उसके साथ मारपीट कर प्रताड़ित करने लगे। वह तीन माह की गर्भवती होने पर जुल्म सहती रही। ससुराल वाले उससे चार पहिया वाहन की मांग करते थे।

गत एक सितंबर को ससुरालियों ने उस पर मिट्टी का तेल उड़ेलकर उसे जलाने का प्रयास किया। वह किसी प्रकार बच गई। मायके आकर रहने लगी। मायके वालों ने काफी समझाया पर ससुराल वाले नहीं माने। ससुरालियों का कहना था कि जब तक उनकी मांग पूरी नहीं होगी उनकी पुत्री को नहीं रखेंगे। आठ सितंबर को ससुराली मायके आए और उसके साथ मारपीट की, जिससे उसके गर्भ को भी नुकसान हुआ। बाद में उसका पति उसे तीन तलाक देकर चला गया।

महिला ने पति शाबान, सास हाजरा उर्फ भोली, जेठ फैजान खां, रेहान खां, उसमान खां, सलमान, देवर रुबान, फरहान, नंद रुबीना, बुलीना और अरमीना के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप