रामपुर : राज्यमंत्री बलदेव सिंह औलख ने कहा कि भाजपा सरकार कोरोना में माता-पिता या संरक्षक को खोने वाले बच्चों के साथ खड़ी है। ऐसे बच्चों के लिए मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना चलाई जा रही है। वह जिला पंचायत सभागार में जिले के 24 बच्चों को इस योजना के लाभ दिए जाने के लिए आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे। इस योजना का मुख्यमंत्री द्वारा लोक भवन लखनऊ से शुभारंभ किया गया तथा आनलाइन क्लिक करके बच्चों के खातों में तीन माह की अग्रिम धनराशि भेजी गई। जिला पंचायत सभागार में स्क्रीन लगाकर राज्यपाल और मुख्यमंत्री के संबोधन कार्यक्रम का सजीव प्रसारण भी किया गया। यहां भी जिले के 24 बच्चों को इस योजना का लाभ दिया गया। इससे पहले राज्यमंत्री समेत विधायक राजबाला, जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार मांदड़ और मुख्य विकास अधिकारी गजल भारद्वाज ने दीप जलाकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। राज्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में प्रदेश लगातार विभिन्न क्षेत्रों में उन्नति के नवीन कीर्तिमान स्थापित कर रहा है। कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण अपने माता पिता या संरक्षक को खोने वाले बच्चों की देखभाल और उनके सर्वांगीण विकास की जिम्मेदारी सरकार ने ली है। बच्चों की बेहतर शिक्षा व्यवस्था में कोई कमी न रहे, इसके लिए शासन के साथ-साथ जिला प्रशासन द्वारा भी लगातार विभिन्न कदम उठाए जा रहे हैं।

विधायक राजबाला ने माता-पिता को खोने का दर्द वही जान सकता है जो इस मुसीबत से गुजर चुका है। मुख्यमंत्री ने ऐसे बच्चों के सिर पर हाथ रखा है तो निश्चित रूप से बच्चे अपने भविष्य में उन्नति के पथ पर बिना किसी रुकावट के आगे बढ़ सकेंगे।

जिलाधिकारी रविद्र कुमार मांदड़ ने कहा कि बच्चों की बेहतरी और उनके सर्वांगीण विकास के लिए शासन और प्रशासन प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के अंतर्गत निर्धारित धनराशि के साथ-साथ अन्य शासकीय योजनाओं से भी बच्चों को लाभान्वित किया जाएगा। उन्होंने प्रशासनिक स्तर से किए गए अभिनव पहल मिशन मुस्कान की चर्चा करते हुए कहा कि इसमें भी बच्चों की बेहतरी और उनकी जरूरतों को ध्यान में रखते हुए प्रशासनिक स्तर से विभिन्न कार्य किए जाएंगे।

जिला प्रोबेशन अधिकारी पल्लवी सिंह ने बताया कि जिले में निर्धारित पात्रता के अंतर्गत 66 बच्चे चिन्हित किए गए हैं, जिनमें से 24 बच्चों को लाभ प्रदान कराने के साथ ही शेष बच्चों के संबंध में नियमानुसार सत्यापन की कार्यवाही की जा रही है। सत्यापन कार्य पूर्ण होने के उपरांत निर्धारित पात्रता के अनुरूप बच्चों को लाभ प्रदान किया जाएगा।

इस दौरान अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व राम भरत तिवारी, अपर जिलाधिकारी प्रशासन जगदंबा प्रसाद गुप्ता, अपर पुलिस अधीक्षक डा. संसार सिंह, क्षेत्राधिकारी पुलिस विद्या किशोर शर्मा, नगर मजिस्ट्रेट रामजी मिश्रा, जिला कार्यक्रम अधिकारी राजेश कुमार सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।