रामपुर: पूर्व मंत्री हाजी निसार हुसैन के पुत्र मुस्तफा हुसैन ने कहा है कि अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री रहते आजम खां की यूनिवर्सिटी को निजी लाभ पहुंचाने के लिए नियम विरूद्व तरीके से करोड़ों की धनराशि दी है। इस बारे में एसआइटी उनसे पूछताछ करे। आरोप लगाया कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रामपुर में मुस्लिम बच्चों के लिए खोले गए जौहर शोध संस्थान व मदरसा आलिया में बन रही अरबी फारसी यूनिवर्सिटी प्रोजेक्ट को जानबूझकर बंद करवा दिया था। मुस्तफा हुसैन ने उत्तर प्रदेश एसआइटी के जांच अधिकारी को अवगत कराया है कि रामपुर में सपा सरकार में हुए घोटालों पर पर्दा डालने के लिए नौ सितंबर को पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव रामपुर आ रहे हैं। वह रामपुर में शिकायतकर्ताओं को डराने के लिए रात्रि विश्राम भी करेंगे। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से पूछा जाए कि उन्होंने अपनी कैबिनेट की बैठक में पारित कर आजम खां के निजी लाभ के लिए सिचाई विभाग, पीडब्लूडी, पर्यटन, अल्पसंख्यक कल्याण और विद्युत विभाग के करोड़ो रुपये किस आधार जौहर यूनिवर्सिटी में खर्च करवा दिए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप