रामपुर: मिलक में पालिका की भूमि पर अवैध निर्माण को रुकवाने को लेकर आरोपित ने जमकर हंगामा काटा। आरोपित के द्वारा बनाई गई दीवार को नगरपालिका कर्मचारियों के गिराने पर उसने पत्थरबाजी शुरू कर दी। पत्थरबाजी होने पर भगदड़ मच गई लोग इधर-उधर भागने लगे। मौके पर पुलिस होने के बावजूद भी आरोपित लगातार नगर पालिका और पुलिस प्रशासन को देख हंगामा मचाता रहा, जिसके बाद नगर पालिका परिषद के कर्मचारियों और पुलिस प्रशासन ने निर्माण को तोड़ना बंद कर दिया।

नगर के मोहल्ला रौरा खुर्द स्थित एक मजार से कुछ दूरी पर नगर पालिका परिषद की जमीन है। जमीन पर एक व्यक्ति पक्का निर्माण करा रहा था, जिसका दूसरे पक्ष ने विरोध जताते हुए नगरपालिका को सूचना दी। सोमवार को नगर पालिका परिषद अधिशासी अधिकारी छोटे कन्हैया सिंह, नायाब तहसीलदार आर्ची गुप्ता और कोतवाल सतेंद्र कुमार सिंह पुलिस फोर्स लेकर पहुंचे। मौके पर मौजूद पक्की दीवार को आदेश मिलने पर नगर पालिका के कर्मचारी तोड़ने लगे। दीवार को तोड़ता हुआ देख पक्का निर्माण करा रहा व्यक्ति हंगामा मचाने लगा। देखते ही देखते उसने दीवार तोड़ रहे नगरपालिका के कर्मचारियों पर ईंटें फेंकना शुरू कर दिया। पालिका के कर्मचारी जान बचाकर वहां से भागे। पक्का निर्माण करा रहा व्यक्ति लगातार नगर पालिका पुलिस प्रशासन के सामने हंगामा करता रहा, जिसके बाद निर्माण कार्य हटाने की प्रक्रिया को रोक दिया गया। अधिशासी अधिकारी छोटे कन्हैया सिंह ने बताया कि, नगर पालिका की भूमि पर एक व्यक्ति के द्वारा अवैध निर्माण कराया जा रहा है। पुलिस के साथ नगर पालिका कर्मचारी अवैध निर्माण हटाने के लिए पहुंचे। एक व्यक्ति के द्वारा अवैध निर्माण हटाने से रोकने का प्रयास किया गया। नायाब तहसीलदार ने बताया कि मौके पर मौजूद जमीन की पैमाइश कराई जाएगी। पैमाइश के बाद ही निर्णय लिया जाएगा।

Edited By: Jagran