मुरादाबाद। प्रशासनिक व्यवस्था में भी कई बार नए खेल देखने को मिलते हैं, इसके पीछे घोर लापरवाही ही सामने आती है। ऐसा ही एक मामला आज उस समय सामने आया जब रामपुर में हो रहे विधानसभा चुनाव में एक बुजुर्ग मतदान करने गया और वोटर लिस्ट में उसे मृत दिखा दिया गया। वह सामने होकर भी साबित नहीं कर सका कि जिंदा है और वोट डाल सकता है।

बता दें कि सोमवार को रामपुर में विधानसभा के लिए हो रहे उपचुनाव में मतदान करने के लिए आवास विकास कालोनी निवासी जगदीश भाटिया अपना वोटर आईडी कार्ड लेकर पोलिंग बूथ पर वोट डालने गए थे। उन्होंने बीएलओ से वोटिंग की पर्ची मांगी तो उसने वोटर लिस्ट देखने के बाद कह दिया कि उनका वोट नहीं नहीं है। उन्हें लिस्ट में मृत दर्शा दिया गया।

जगदीश भाटिया वहां मौजूद अधिकारियों को अपना वोटर आईडी कार्ड दिखाते हुए खुद को जिंदा होने का प्रमाण देने की कोशिश करते रहे, लेकिन किसी ने भी उन्हें वोट डालने की इजाजत नहीं दी। श्री भाटिया का कहना है कि वह पिछले पचास साल से वोट डालते आ रहे हैं। यह व्यवस्था की खोट है जिससे इस बार वे वोट डालने से वंचित रह गए।  

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस