रामपुर, जासं : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव एवं सपा प्रत्याशी आजम खां ने कहा कि भाजपा नेताओं के खिलाफ निर्वाचन आयोग कोई एक्शन नहीं ले रहा है। योगी आदित्यनाथ और मुख्तार अब्बास नकवी ने सेना को मोदी की सेना बता दिया। एक गर्वनर ने मोदी जी का प्रचार किया, फिर भी कोई एक्शन नहीं, जबकि हमनें अपनी कुर्बानी बता दी थी तो हमारी जुबान बंद कर दी थी। गौरतलब है कि पिछले लोकसभा चुनाव में निर्वाचन आयोग ने आजम खां के बोलने पर पाबंदी लगा दी थी। सपा कार्यालय पर शनिवार को बसपा कार्यकर्ताओं का सम्मेलन बुलाया गया। इस मौके पर आजम खां ने बसपाइयों को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने मुसलमानों और दलितों पर सबसे ज्यादा जुल्म किए हैं। अगर ये दोनों एकजुट हो जाएं तो देश की राजनीति की सूरत बदल देंगे। उन्होंने कहा कि हमने हमेशा कमजोरों का साथ दिया है और आगे भी देते रहेंगे। इस मौके पर बसपा जिलाध्यक्ष अजय सागर, पूर्व दर्जामंत्री सुरेंद्र सागर, राजेश प्रकाश सैनी, दिनेश गौतम, रामभजन सिंह सागर, मनोज पांडे आदि मौजूद रहे। जासं फोटो- 37 सपा में लौट आए फिरासत खां

रामपुर : समाजवादी पार्टी जनता पार्टी के टिकट पर 1991 में लोकसभा चुनाव लड़ चुके फिरासत खां 24 साल बाद फिर सपा में लौट आए। शनिवार को पूर्व मंत्री आजम खां ने उन्हें सपा में शामिल किया और सीने से लगा लिया। फिरासत खां पहले आजम खां के बहुत करीबी लोगों में रहे हैं। 1995 में वह आजम खां से अलग हो गए थे। जासं

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस