रामपुर : जिला अधिकारी रविद्र कुमार मांदड ने खंड विकास अधिकारी मिलक सुभाष चन्द्र को प्रतिकूल प्रविष्टि की प्रति उनकी सेवा पुस्तिका में चस्पा न कराने पर जिला विकास अधिकारी मंसाराम यादव को फटकार लगाई। बीडीओ बिलासपुर को चेतावनी नोटिस जारी करने के निर्देश दिए।

बुधवार को जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट सभागार में शिक्षा समिति की बैठक के दौरान कई अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। खंड विकास अधिकारी द्वारा विकासखंड स्तर से आयोजित होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों में लगातार लापरवाही एवं अनुशासनहीनता के चलते मुख्य विकास अधिकारी द्वारा उन्हें प्रतिकूल प्रविष्टि दी गई थी जिस के संबंध में जिला विकास अधिकारी को खंड विकास अधिकारी की सेवा पुस्तिका में इस प्रतिकूल प्रविष्टि को चस्पा करना था। इसमें लापरवाही पर उन्हें फटकार लगाई गई। विद्यालयों के सौंदर्यीकरण में धीमी प्रगति पर नाराजगी जताई। मिशन कायाकल्प के अंतर्गत विकासखंड बिलासपुर के विद्यालयों में भी धीमी प्रगति पर जिलाधिकारी ने खंड विकास अधिकारी बिलासपुर को चेतावनी नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। विकासखंड वार समीक्षा के दौरान कहा कि पांच अक्टूबर तक विद्यालयों में निर्धारित पैरामीटर के अनुसार सभी कार्य पूर्ण हो जाने चाहिए।

जनपद में लगभग 14000 ऐसी किशोरी बालिकाएं चिन्हित हैं, जिनका किसी कारणवश विद्यालयों में दाखिला नहीं कराया गया है। जिलाधिकारी ने इन बालिकाओं को शिक्षा से जोड़ने के लिए सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे व्यक्तिगत रूचि लेते हुए जिला कार्यक्रम अधिकारी से सूची प्राप्त करके संबंधित गांव के अध्यापकों को निर्देशित करें। कहा कि 30 सितंबर तक इन बालिकाओं को विद्यालय में दाखिला दिलाने संबंधी कार्यवाही हो जानी चाहिए। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कल्पना सिंह को निर्देशित किया कि वह आगामी तीन दिवस के भीतर सभी कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों का निरीक्षण कर वहां की भौतिक स्थिति एवं शिक्षा व्यवस्था के बारे में रिपोर्ट प्रस्तुत करें।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी गजल भारद्वाज, अपर जिलाधिकारी प्रशासन जगदंबा प्रसाद गुप्ता, प्राचार्या डायट नीलम टम्टा, जिला कार्यक्रम अधिकारी राजेश कुमार, जिला पंचायत राज अधिकारी दुर्गा प्रसाद तिवारी सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Edited By: Jagran