टांडा, रामपुर : क्षेत्र के फत्तावाला गांव के युवक की कोसी नदी में डूबने से मौत हो गई। वह बुधवार दोपहर से लापता था। गुरुवार को गांव कुतुबपुर के पास कोसी नदी में शव मिलने से सनसनी फैल गई।

लालपुर कलां से सटे गांव कुतुबपुर (ईश्वरपुर) के पास ग्रामीणों ने गुरुवार दोपहर को कोसी नदी में शव बहता हुआ देखा। शव देखकर ग्रामीणों ने शोर मचा दिया, जिससे मौके पर भीड़ जमा हो गई। मौके पर मौजूद लोगों ने शव को बाहर निकाल लिया। सूचना पर पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस ने काफी देर तक ग्रामीणों से शव की पहचान कराई। शव कोसी नदी में दढि़याल की ओर से बहता हुआ आया था। करीब दो घंटे बाद शव की शिनाख्त हुई। शव चौकी दढि़याल से सटे गांव फत्तावाला निवासी जितेंद्र सिंह (32) पुत्र चेतराम सिंह के रूप में हुई, जो फत्तावाला में राजीव गांधी कंप्यूटर सेंटर चलाता है। वह बुधवार की दोपहर तीन बजे से गायब था। अपना मोबाइल आदि घर में छोड़कर चला गया था। कोतवाली इंचार्ज परवेज कुमार चौहान का कहना है कि जांच पड़ताल में पता चला है कि उसके घर में माता-पिता छोटा भाई व मृतक की पत्नी लक्ष्मी है। बच्चा कोई नहीं है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। उधर युवक की मौत की सूचना से परिवार में कोहराम मच गया। नदी में डूबे युवक की तलाश जारी

संवाद सहयोगी, बिलासपुर : भाखड़ा नदी में डूबे युवक का दूसरे दिन भी गोताखोरों के हाथ कोई सुराग नहीं लग सका। इस दौरान युवक की तलाश को लेकर पीएसी की एनडीआरएफ टीम द्वारा रेस्क्यू ऑपरेशन किया जा रहा है।

नगर के मुहल्ला टांडा हुरमतनगर नई बस्ती चांद के पार निवासी दूल्हा हुसैन का तीस वर्षीय पुत्र आदिल उर्फ फईम मुहल्ले में ही बहन के यहां रहता था। बुधवार को वह मुहल्ला शीरी मियां में ईद मनाकर वापस बहन के घर नदी पार कर जा रहा था। गहरे पानी में जाने से वह नदी में डूब गया। सूचना पर युवक के स्वजन तथा प्रभारी निरीक्षक प्रिस शर्मा मौके पर पहुंच गए। गोताखोरों द्वारा घंटों तलाश करने के बावजूद युवक का कोई सुराग हाथ नहीं लग सका। दूसरी ओर गुरुवार को पीएसी एनडीआरएफ की टीम मुरादाबाद से पहुंची। टीम द्वारा सुबह से युवक की तलाश में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है। सीओ अनुज कुमार चौधरी तथा नायब तहसीलदार अमरपाल सिंह ने कहा कि रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। उधर, युवक के नदी में डूब जाने की वजह से उसकी बहन समेत अन्य स्वजनों का रो-रो कर बुरा हाल है।