रामपुर : जिले में कोरोना वायरस का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है। ग्रामीण क्षेत्र में भी बड़ी संख्या में संक्रमित मिल रहे हैं। पंचायत चुनाव के दौरान तो संक्रमण बेकाबू हो गया था। पहले जहां संक्रमितों की संख्या 300 तक पहुंच रही थी, वहीं पंचायत चुनाव के दौरान एक-एक दिन में 400 से अधिक लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ रहे थे। इसके चलते कोरोना संक्रमण की दर भी बढ़कर सात फीसद से भी ऊपर पहुंच गई थी। जिले में पंचायत चुनाव के लिए 15 अप्रैल को मतदान हुआ था। दो मई को मतगणना हुई, जो करीब तीन दिन तक चली। चुनाव के दौरान कोविड प्रोटोकाल की खूब धज्जियां उड़ीं, जिससे हालात बेकाबू हो गए थे। कोरोना संक्रमण के सबसे ज्यादा मरीज गांवों में मिलने लगे। 29 अप्रैल को 390, पहली मई को 420 और सात मई को 421 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव आई। इसके अलावा रोजाना संक्रमितों का आंकड़ा 200 से 300 के बीच रहा। इस एक माह में लापरवाही के चलते कोरोना संक्रमण दर भी बढ़ गई।

सीएमओ कार्यालय से मिले आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल से अब तक 10 हजार से अधिक लोग संक्रमित मिल चुके हैं। संक्रमण की दर 2.35 फीसद रही। लेकिन, सिर्फ पिछले एक माह की बात करें तो संक्रमण की दर 7.3 फीसद तक पहुंच गई थी। अन्य माह में संक्रमण दर चार से पांच फीसद के बीच थी। हालांकि अब स्थिति में सुधार है। जिले में सक्रिय मरीजों की संख्या घटने लगी है। वर्तमान में 1229 सक्रिय मरीज हैं।

-----------

अगर हम लोग सावधानी रखेंगे तो संक्रमण से बच सकेंगे। इसके लिए घर में ही रहें। कोविड प्रोटोकाल का पालन करते रहें। बाहर जाने पर मास्क लगाएं और शारीरिक दूरी का पालन करें।

डॉ. संजीव यादव, सीएमओ

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप