रामपुर : भारतीय किसान यूनियन अंबावता के राष्ट्रीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष मोहम्मद हनीफ वारसी ने प्रेस वार्ता में कहा सरकार किसी की भी हो, किसानों के प्रति सबका रवैया एक जैसा रहता है। किसानों के हितों की बात कोई सरकार नहीं करती। इसके विपरीत किसानों को दबाने का ही कार्य किया जाता है। इस दौरान उन्होंने सिचाई विभाग को लपेटे में लेते हुए कई गंभीर आरोप भी लगाए।

उन्होंने कहा कि जब समाजवादी पार्टी की सरकार थी, उस समय भी किसानों पर फर्जी मुकदमे दर्ज कराए गए। अब इस सरकार में भी बिना कारण फर्जी मुकदमे दर्ज करवाए जा रहे हैं।

कहा कि सिचाई विभाग के कुछ कर्मचारियों द्वारा अधिकारियों को गुमराह किया जा रहा है। नहरें पाट दी गई हैं। उन पर मकान और दुकान बना कर खड़े कर दिए गए हैं। यह सब सांठगांठ के चलते ही हुआ है। ऐसे में किसानों के सामने सिचाई की समस्या खड़ी हो गई है। इस दौरान उन्होंने विभाग के कर्मचारियों पर कई गंभीर आरोप लगाए।

कहा कि विभाग में वर्तमान में तैनात एक कर्मचारी पूरी तरह भ्रष्टाचार में लिप्त है। जो भी अधिशासी अभियंता यहां आते हैं, उन्हें अपने वश में करके आरोपित द्वारा अवैध वसूली का धंधा शुरू कर दिया जाता है। कहा कि 10 वर्ष के अभिलेखों की जांच करवा ली जाए तो सारे घपले उजागर हो जाएंगे। कहा कि विभाग की लापरवाही के कारण सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ उन्हें नहीं मिल पा रहा है।

इस दौरान कामरान शाह खां, हरताल सिंह, यादव, दीपेंद्र सिंह नेगी, सुधीर ठाकुर, खुर्शीद, महबूब अली व गुरुमुख सिंह आदि रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस