रामपुर: मसवासी नगर पंचायत के संविदा कर्मी की सड़क हादसे में मौत हो गई थी। हादसे का वीडियो वायरल हो गया। इसमें सड़क हादसे को अंजाम देने वाले युवक को कुछ लोगों द्वारा घटना स्थल से भगाया जा रहा है। इसे देखकर लोगों में आक्रोश पनप गया। युवक को जानबूझ कर घटनास्थल से भगाने का कुछ लोगों पर आरोप लगाते हुए चौकी में जमकर हंगामा किया। इसके साथ ही लोगों ने नगर पंचायत कर्मी की हत्या का आरोप लगाते हुए फरार आरोपित के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

गौरतलब है कि रविवार की देर शाम नगर पंचायत कार्यालय में ड्यूटी पर जा रहे संविदा कर्मी रुप किशोर मौर्य को स्वार-काशीपुर मार्ग पर स्थित मुस्कान क्लीनिक के पास अचानक पीछे से आई तेज रफ्तार बाइक ने जोरदार टक्कर मार दी थी। हादसे के बाद काशीपुर के निजी अस्पताल में उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई थी। नगर पंचायत कर्मी के साथ हुए हादसे की एक वीडियो इंटरने मीडिया में वायरल हुई। जिसमें कुछ लोग दुर्घटना करने वाले युवक को जानबूझकर भगाते दिखाई दे रहे थे, जिसको देख लोगों का गुस्सा भड़क गया। गुरुवार को लोगों की काफी भीड़ चौकी पहुंच गई और कुछ लोगों पर दुर्घटना करने वाले युवक को जानबूझकर भगाने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। मामले की नामजद तहरीर पुलिस को दी गई। कुछ ही देर में दूसरे पक्ष के लोग भी चौकी पहुंच गए। हंगामे की जानकारी मिलते ही चेयरमैन हरिओम मौर्य भी चौकी पहुंच गए। जिन्होंने दूसरे पक्ष के लोगों से फरार आरोपित की जानकारी देने को कहा। पहले तो किसी ने भी जानकारी उपलब्ध नहीं कराई, लेकिन मामला बढ़ता देख फरार आरोपित युवक की पहचान स्वार कोतवाली क्षेत्र के गांव केशोनगली के रूप में हुई है। अभी मामले की रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

Edited By: Jagran