रामपुर । भागदौड़ और तनाव भरी ¨जदगी में यूं तो सिर का दर्द आम बात है, लेकिन इसे हल्के में न लें। जांच जरूर कराएं। सिर का यह दर्द ब्रेन ट्यूमर की शुरुआत भी हो सकता है।

बुधवार को विश्व ब्रेन ट्यूमर दिवस पर सीआरपीएफ के कम्पोजिट अस्पताल में गोष्ठी के जरिए जवानों और उनके परिवार को इस बीमारी के बारे में जागरूक किया। वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. टीएन गुप्ता ने बताया की वैसे तो सिर दर्द आम समस्या है, मगर यह ब्रेन ट्यूमर का लक्षण भी हो सकता है। पहचान न होने से व्यक्ति अंजान रहता है। अंदर ही अंदर यह गंभीर होता जाता है। सर्जरी इसका प्रमुख इलाज है। आधुनिक चिकित्सा में पहले के मुकाबले खतरा भी कम रहता है। आयुर्जीवनम सेवा समिति के डॉ. कुलदीप चौहान ने इस बीमारी के लक्षणों की जानकारी दी। बताया की सिर दर्द, चलते समय लड़खड़ाने की समस्या, याददाश्त कमजोर होना, देखने सुनने में दिक्कत होना, सांस लेने में दिक्कत होना, लगातार सिर भारी, स्वभाव में बदलाव आना, दौरे पड़ना, गले में अकड़न होना, चक्कर आना आदि इस बीमारी के आम लक्षण है। ऐसे लक्षणों को गंभीरता से लें और तुरंत जांच कराएं, ताकि समय पर बीमारी का पता चल सके और मरीज को उपचार मिल सके। यह बीमारी 15 से 50 वर्ष की आयु वालों को हो सकती है। गोष्ठी में डॉ. सुषमा शर्मा, डॉ. अमित आदि ने भी विचार रखे।