ऊंचाहार (रायबरेली): श्मशान घाट पर चिता तैयार थी। परिवारीजन व अन्य रिश्तेदार अंतिम यात्रा की औपचारिकता पूरी कर चुके थे। इसी बीच घाट पर पहुंचे मृतक के बेटे ने हत्या की आशंका जताई। साथ ही अंतिम संस्कार रोक दिया। पुलिस ने फिलहाल शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

मामला जगतपुर थाना क्षेत्र के गांव जलालपुर का है, लेकिन यह घटनाक्रम ऊंचाहार के गोकना गंगा घाट पर हुआ। जलालपुर के गंगादीन (50) शनिवार की शाम अपने घर से शौच के लिए बाहर निकले थे। काफी रात तक जब वह वापस नहीं आए तो परिवारीजनों ने तलाश शुरू की, लेकिन उनका कोई सुराग नहीं मिला। रविवार की सुबह ग्रामीणों ने गांव के बाहर एक खेत में गंगादीन का शव पड़ा देखा। शव घर लाया गया। चोट के कोई निशान नहीं थे। इसलिए सबने स्वाभाविक मौत मानकर अंतिम संस्कार की तैयारी शुरू कर दी। गंगा दीन का एक बेटा सुक्खू कानपुर में मजदूरी करता है। उसे सूचना दी गई। बेटे के आने में समय था, इसलिए परिवारीजन अंतिम संस्कार के लिए शव लेकर गोकना गंगा घाट पहुंच गए। श्मशान घाट पर चिता लगाई गई। शवदाह की प्रक्रिया चल रही थी। इसी बीच सुक्खू घाट पर पहुंचा। उसने अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया। आरोप लगाया कि उसके पिता की हत्या हुई है। इसका मुकदमा दर्ज करके जांच होनी चाहिए। यही नहीं घाट से ही उसने पुलिस अधीक्षक को फोन कर इसकी जानकारी दी। फिर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया। सीओ विनीत सिंह ने बताया कि शव का पोस्टमॉर्टम कराकर जांच की जाएगी। यदि पोस्टमॉर्टम में कुछ आपत्तिजनक बात सामने आई तो मुकदमा लिखकर कार्रवाई होगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस