रायबरेली : गर्मी पूरे रौ में है। पारा 41 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया है। मौसम के इस तीखे मिजाज से जिले की राजनीति भी कदमताल करने लगी है। यानी सियासत का पारा भी सरपट दौड़ रहा है।

14 अप्रैल को केंद्रीय सूचना-प्रसारण मंत्री जिले में आई। फिर दो दिन पहले पड़ोसी जिले अमेठी में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी अपने तीन दिवसीय दौरे पर आए। वे अब भी रायबरेली में हैं। मंगलवार शाम सोनिया गांधी भी अपने संसदीय क्षेत्र में आ गई हैं। अब 21 अप्रैल को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आगमन की भी सूचना आ गई है। ऐसे में लगता है कि सत्ता पक्ष और विपक्ष ने 2019 के लोकसभा चुनाव की रणभेरी बजने के स्थान का चयन कर लिया है। दोनों के केंद्र ¨बदु में रायबरेली ही है।

कांग्रेस को अपना गढ़ बचाने की ¨चता है तो भाजपा की हर कोशिश इसे ढहाने की होगी। यही कारण है कि दे दनादन नेता इस ओर दौड़े चले आ रहे हैं।

यहां गांधी परिवार के निकटस्थ लोगों में से एक एमएलसी दिनेश प्रताप ¨सह ने अपने भाई अवधेश प्रताप ¨सह के माध्यम से बीते सप्ताह एक पत्र सोशल मीडिया में वायरल कराया। इसमें कहा गया था कि पंचवटी अब अमेठी की नहीं रही। इस चिट्ठी ने यह जाहिर कर दिया कि कांग्रेस अपने गढ़ में ही कुछ लोगों को खो रही है। कांग्रेस छोड़ने वाले ये लोग किधर जा रहे हैं। इस पर पंचवटी परिवार ने शुरुआती दिनों में पर्दा डाले रखा। लेकिन 'जागरण' ने 12 अप्रैल के अंक में 'भगवा होगी पंचवटी, भव्य आयोजन में थामेंगे झंडा' शीर्षक से सबकुछ स्पष्ट कर दिया था। इस पूरे घटनाक्रम पर सांसद प्रतिनिधि की नजरे थीं। पूरे घटनाक्रम को पढ़ने के बाद रायबरेली में नेताओं की दौड़-भाग तेज हो गई है। बताया जाता है कि 21 अप्रैल को उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा सहित प्रदेश के कई बड़े राजनेता मौजूद रहेंगे। जीआइसी में होगी जनसभा

शहर के बस अड्डे के पास स्थित जीआइसी मैदान में 21 अप्रैल को जनसभा होगी। इसका आयोजन पंचवटी परिवार कर रहा है। इसी जलसे में एमएलसी दिनेश प्रताप ¨सह, जिला पंचायत अध्यक्ष अवधेश प्रताप ¨सह आदि अपने समर्थकों संग भाजपा में शामिल होंगे। जनसभा को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडेय, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी संबोधित करेंगे। कार्यक्रम की सूचना आ गई है : कक्कर

भाजपा के जिला उपाध्यक्ष अनुभव कक्कर ने बताया है कि पार्टी स्तर पर सूचना आ गई है कि 21 अप्रैल को राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और मुख्यमंत्री आदित्यनाथ जिले में आ रहे हैं। उनके साथ पार्टी के कई अन्य बड़े नेता भी आएंगे। सभा जीआइसी मैदान में होगी। हरचंदपुर विधायक भाजपा में नहीं होंगे शामिल

हरचंदपुर से कांग्रेस विधायक राकेश प्रताप ¨सह 21 अप्रैल को भाजपा में शामिल नहीं होंगे। इसके पीछे बड़ा कारण दल बदल कानून माना जा रहा है। फिलहाल, अभी वे कांग्रेस में ही बने रहेंगे। विधायक से देर रात पूछा गया कि सांसद सोनिया गांधी से मिले कि नहीं। इस पर वह बोले, आज तो मैं जिले से बाहर था।

By Jagran