लालगंज (रायबरेली) : रेल पहिया कारखाना के डीजीएम और सरेनी विधायक ने परिसर में पत्रकार वार्ता की। जिसमें नवंबर माह के आखिरी तक रेल पहियों का उत्पादन प्रारंभ होने की बात कही गई।

उप महाप्रबंधक संजय झा ने बताया कि 1683 करोड़ की लागत से बनने वाले कारखाना निर्माण का अनुबंध जर्मनी की एसएमएस कंपनी को दिया गया था। सभी मशीनें कारखाना आ चुकी हैं। कुछ मशीनों की टेस्टिग हो चुकी है। शुक्रवार को फर्नेश मशीन के आधा दर्जन बर्नर जला कर देखे जाएंगे। उन्हें 550 डिग्री सेल्सियस तक गर्म करने के बाद बंद कर दिया जाएगा। परीक्षण सफल रहा तो दूसरे चरण में सभी बर्नर जलाए जाएंगे। विधायक धीरेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि मेक इन इंडिया के तहत बन रहे इस कारखाने में नवंबर के अंत तक पहिया उत्पादन प्रारंभ हो जाएगा। अभी लगभग 70 से 80 हजार फोर्जड व्हील चाइना, जर्मनी, चेकोस्लोवाकिया आदि देशों से मंगाए जाते हैं। निर्माण कार्य में तेजी लाने के साथ ही गुणवत्तापूर्ण पहिए बनाए जाने के लिए कहा गया है। कारखाना बनने के बाद स्थानीय लोगों को भी रोजगार के रूप में इसका लाभ मिलेगा। इस मौके पर मनोज सिंह, रवी सिंह आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप