रायबरेली : पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि के खिलाफ कांग्रेस द्वारा बुलाए गए भारत बंद का सोमवार को जिले में मिला-जुला असर रहा। शहर के सभी मुख्य बाजारों में शाम तक दुकानें बंद रहीं। सरेनी में भी दुकानों के शटर नहीं उठे। अन्य कस्बों में भी बाजारों में दोपहर तक सन्नाटा पसरा रहा। शहर में कांग्रेस की जिला कार्यकारिणी ने प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी का पुतला फूंककर विरोध प्रदर्शन किया। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता भी महंगाई को लेकर सड़क पर उतरे और केंद्र तथा प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध दर्ज कराया। हालांकि, सपाइयों ने भारत बंद का समर्थन नहीं किया।

जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष वीके शुक्ल व शहर अध्यक्ष सईदुल हसन के नेतृत्व में कांग्रेस के कार्यकर्ता तिलक भवन से जुलूस की शक्ल में हाथों में काला फीता बांधकर सोमवार सुबह 11 बजे निकले। जुलूस खोवा मंडी, कैपरगंज, घंटाघर होते हुए सुपर मार्केट पहुंचा। यहां जनसभा कर मोदी सरकार की जनविरोधी नीतियों पर जमकर प्रहार किया गया। इसके बाद जुलूस अस्पताल चौराहा और हाथी पार्क होते हुए शहीद चौक पहुंचा। यहां सिटी मजिस्ट्रेट को राष्ट्रपति के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा गया। यूनियन बैंक तिराहे पर कांग्रेसियों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला भी फूंका। उस वक्त पुलिस सुपर मार्केट में जुलूस की निगरानी कर ही थी। इस दौरान ओपी श्रीवास्तव, धर्मेंद्र पाल ¨सह, सुन्दरलाल निर्मल, राजू ¨सह पाहो, शिवानन्द मौर्या, सुनील श्रीवास्तव, निर्मल शुक्ल, राजकुमार दीक्षित, रोहित ¨सह, प्रमोद त्रिपाठी, प्रमेन्द्रपाल ¨सह, नौशाद खतीब, लालआशकिरन प्रताप ¨सह, हिमांशु ¨सह, महताब आलम, रवींद्र ¨सह, नागेन्द्र ¨सह, कल्याणचंद्र श्रीवास्तव, हाफिज रियाज, मुन्ना घोसी, एजाजुल हसन, मो. इस्लाम, राहुल वाजपेयी, शैलजा ¨सह, पुष्पेंद्र यादव, हीरालाल यादव, वासुदेव ¨सह, रामनरेश त्रिवेदी, महेश वाजपेयी, सुनील तिवारी, जेपी त्रिपाठी, मिथिलेश त्रिवेदी, हिमांशु ¨सह, योगेंद्र शुक्ला, अनिमेश श्रीवास्तव, सत्येंद्र श्रीवास्तव, सरदार भूपेंद्र ¨सह, मीसम नकवी, सोनू खान आदि मौजूद रहे। जुलूस में घोड़ा गाड़ी भी

राही ब्लाक से सत्यप्रकाश पांडेय, पंकज सोनकर और पंकज तिवारी के नेतृत्व में कांग्रेसी भैंसा गाड़ियों के साथ विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए। इन गाड़ियों पर बाइक और सिलिंडर लाद दिया गया था। कांग्रेस की झंडी लगी भैंसा गाड़ियां जुलूस में आकर्षण का केंद्र रहीं। महंगाई पर सपा भी मुखर

कांग्रेस के गढ़ में सपा ने भारत बंद का समर्थन नहीं किया। हालांकि, बड़ी संख्या में सपाई सुपर मार्केट जिला मुख्यालय से पैदल कचहरी रोड होते हुए शहीद चौक पहुंचे। यहां सिटी मजिस्ट्रेट को 18 सूत्रीय मांगपत्र सौंपा। मांगपत्र में मुख्य रूप से डीजल एवं पेट्रोल में बेतहाशा वृद्धि, किसानों की कर्ज माफी, पेट्रो पदार्थो की मूल्य वृद्धि, आरक्षण की संवैधानिक व्यवस्था में छेड़छाड़, गड्ढायुक्त सड़कों की समस्या को प्रमुख रूप से उठाया गया। इस अवसर पर राम बहादुर यादव, आरपी यादव, मो इलियास, मो जफर इकबाल, पारुल वाजपेयी, चंद्रराज ¨सह पटेल, सुरेश पटेल, अखिलेश माही, रामसेवक वर्मा, मिर्जा सुल्तान बेग आदि मौजूद रहे। रालोद समेत अन्य दल आए सामने

भारत बंद के समर्थन में राष्ट्रीय लोकदल भी कांग्रेस के साथ रहा। जिलाध्यक्ष समरजीत ¨सह की अगुवाई में कार्यकर्ता जुलूस में शामिल हुए। भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मा‌र्क्सवादी-लेनिनवादी के कार्यकर्ताओं द्वारा खोया मंडी से घंटाघर तक जुलूस निकाला गया। यहां सभा में भाकपा नेता विजय विद्रोही ने कहा कि मोदी सरकार को जनता की चिंता नहीं है। इस दौरान एहसान खान, अक्षय कुमार, अहमद सिद्दीकी, ताबिश आजमी, फूल भाई, राम गोपाल, शकी, रियाजुल आदि उपस्थित रहे। वहीं, भारत की कम्युनिस्ट पार्टी ने धरना-प्रदर्शन कर महंगाई का विरोध किया।

Posted By: Jagran