मनमाने स्थानांतरण पर भड़के पावर कारपोरेशन के अवर अभियंता

रायबरेली : मनमाने तरीके से किए गए स्थानांतरण से नाराज पावर कारपोरेशन के अवर अभियंताओं ने गुरुवार को अधीक्षण अभियंता के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। उनके कार्यालय के बाहर जमकर विरोध प्रदर्शन और नारेबाजी की। राज्य विद्युत परिषद जूनियर इंजीनियर संगठन के आह्वान पर नगर और ग्रामीण अंचल के उपकेंद्रों में तैनात तमाम अवर अभियंता सिविल लाइंस स्थित मंडल कार्यालय प्रथम पहुंचे। पहले तो अधीक्षण अभियंता विवेक अग्रवाल से मुलाकात की। फिर उनके कक्ष से बाहर निकले और कार्यालय के सामने खड़े होकर नारेबाजी करने लगे। जिलाध्यक्ष मुकेश भारती, जिला सचिव जय प्रकाश, प्रसार सचिव हेमंत मिश्र, एसपी यादव ने कहा कि परीक्षण खंड प्रथम में तैनात अवर अभियंता युद्धवीर का अधीक्षण अभियंता की ओर से अचानक परीक्षण खंड द्वितीय में स्थानांतरण कर दिया गया। अधीक्षण अभियंता से जब इसका कारण पूछा गया तो कोई जवाब नहीं मिला। आक्रोशित अभियंताओं ने कहा कि बिना किसी वजह एक जेई का तबादला करना पूरी तरह गलत है। अगर, स्थानांतरण नीति अपनाई गई है तो इस दायरे में आ रहे अन्य उपकेंद्रों में अवर अभियंताओं को भी इसमें शामिल किया जाए। जेई से प्रोन्नत होकर एसडीओ बने अभियंता सुनील कुशवाहा, कैलाश यादव, अजय कुशवाहा भी इनमें शामिल रहे। सभी ने कहा कि यह स्थानांतरण आदेश रद न किया गया तो आंदोलन किया जाएगा।

Edited By: Jagran