परशदेपुर (रायबरेली): नसीराबाद के पूरे पासिन मजरे संडहा गांव में युवती की आत्महत्या के मामले में उसके प्रेमी को बुधवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसकी बरात जानी थी, तैयारियां मुकम्मल हो चुकी थी, मगर ऐन मौके पर खाकी हरकत में आई और उसे पकड़ कर थाने ले गई। जिसके बाद युवती के परिवारीजनों का गुस्सा शांत हुआ।

सोमवार की रात उक्त गांव की युवती ने फांसी लगाकर खुदकशी कर ली थी। उसने अपनी मौत के लिए नसीराबाद पुलिस को जिम्मेदार ठहराते हुए सुसाइड नोट लिखा था। बुधवार को पोस्टमार्टम होने के बाद उसका शव गांव लाया गया। आक्रोशित परिजन संगीता के प्रेमी व उसके घरवालों की गिरफ्तारी की बात पर अड़ गए और अंतिम संस्कार करने से इंकार कर दिया। थानाध्यक्ष धीरेंद्र कुमार काफी देर तक युवती के पिता को समझाते रहे, लेकिन बात नहीं बनी। बाद में युवती की मां की तहरीर पर प्रेमी पंकज, उसके भाई विजय, राहुल और संजय, पिता हुबलाल के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोपित बनाते हुए मुकदमा दर्ज किया। दूल्हा बनकर बरात ले जाने वाले पंकज को गिरफ्तार कर लिया। अन्य आरोपित मौके से भाग निकले। बुधवार को ही पंकज की बरात डीह थाना क्षेत्र के एक गांव में जाने वाली थी। इस कार्रवाई के बाद भी युवती के परिजन अंतिम संस्कार को राजी नहीं हुए। बाद में काफी मान मनौव्वल के बाद ये तय हुआ कि गुरुवार को उसका अंतिम संस्कार किया जाएगा। थानाध्यक्ष ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हैंगिग की वजह से मौत होने की बात सामने आई है। युवती के प्रेमी पंकज कुमार को पकड़ा गया है। बाकी आरोपितों की तलाश की जा रही है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप