संसू, ऊंचाहार (रायबरेली) : मंडल रेल प्रबंधक के आगमन को लेकर शुक्रवार को रेलवे स्टेशन पर खासी चौकसी रही। इसको लेकर अफसर से लेकर कर्मचारी तक मुस्तैद थे। परिसर भी आम दिनों की अपेक्षा चमक रहा था। साफ-सफाई खासी बेहतर थी। नंबर बढ़वाने के लिए अफसरों ने तो पूरी तैयारी की थी, लेकिन डीआरएम ट्रेन से उतरे ही नहीं।

उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के मंडल रेल प्रबंधक सतीश कुमार शुक्रवार को प्रयाग जा रहे थे। प्रयाग में कुंभ मेले की तैयारियों को लेकर आयोजित किसी बैठक में उन्हें शामिल होना था। डीआरएम का विशेष कोच मेरठ से प्रयाग जा रही नौचंदी एक्सप्रेस में लगा था। विभागीय अफसरों व कर्मचारियों को स्टेशन के निरीक्षण की भी उम्मीद थी। अधिकारी डीआरएम की अगुवाई की खातिर खुद तो खड़े ही थे, साथ स्टेशन की खामियों को भी दूर कर दिया गया था। गुरुवार से ही स्टेशन की सफाई का काम शुरू हो गया था। डीआरएम की ट्रेन ऊंचाहार पहुंची तो अफसरों व कर्मचारियों की धड़कनें तेज हो गई। लेकिन, डीआरएम अपने विशेष कोच से बाहर नहीं निकले। डीआरएम की ट्रेन के स्टेशन से जाने के बाद सभी ने राहत की सांस ली।

Posted By: Jagran