रायबरेली (जेएनएन)। एमएलसी दिनेश सिंह शनिवार को जिला पंचायत सभागार में पत्रकारों के सामने पलटवार करते हुए कांग्रेस को चुनौती दे डाली। कहा कि उनके छोटे भाई राकेश सिंह की विधायक के टिकट की एवज में प्रियंका ने पहले ही इस्तीफा लिखा लिया था। अब वे लोग ड्रामा कर रहे हैं। कहाकि, हिम्मत है तो कांग्रेसी सीधे मेरा इस्तीफा विधान परिषद में दे दें, मैं सहर्ष स्वीकार कर लूंगा। मालूम हो कि भगवा खेमे में आते ही रायबरेली के एमएलसी दिनेश सिंह को कांग्रेसियों ने घेरना शुरू कर दिया है। उनकी सदस्यता रद करने के लिए अमेठी के कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह ने शुक्रवार को विधान परिषद में याचिका दाखिल की है। 

दोबारा चुनाव होते ही दूर होगा मुगालता

एमएलसी ने कहा कि यदि विधान परिषद का दोबारा चुनाव होता है तो कांग्रेस का मुगालता निकल जाएगा। एमएलसी का चुनाव वह कांग्रेस की बदौलत नहीं बल्कि खुद की मेहनत से जीते थे। 

दो-तिहाई चहिए बहुमत

अभी तक दल बदल का ऐसा कोई कानून नहीं बना है कि जिसमें दो सीट पर एक की सदस्यता रद करने का प्रावधान हो। आखिर में यह दो-तिहाई का बहुमत कहां से लाएंगे।

Posted By: Nawal Mishra