ऊंचाहार (रायबरेली): जनपद में राजनैतिक सरगर्मी फिर बढ़ गई है। ऊंचाहार में पंचायत प्रतिनिधि सम्मेलन का आयोजन हो रहा है। जिसमें डिप्टी सीएम संग तीन मंत्री शिरकत करने आ रहे हैं। इसके चलते माहौल भाजपा बनाम कांग्रेस हो गया है। बुधवार को एक तरफ शहर से कुछ दूरी पर भुएमऊ गेस्ट हाउस में प्रदेश कांग्रेस की नवगठित कमेटी को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भाजपा से निपटने के गुर सिखाएंगी। वहीं दूसरी ओर उनको भाजपा की ओर से उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा पूरी टीम के साथ ऊंचाहार से जवाब देंगे। बीजेपी जमीनी स्तर पर पंचायतों में अपनी पकड़ मजबूत करने की कोशिश कर रही है। इसके लिए ऊंचाहार में बड़ी तैयारी चल रही है। बुधवार को नगर के राजकीय स्नातकोत्तर कालेज में विशाल कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। यह दो चरणों में होगा। पहले श्रमविभाग द्वारा एनटीपीसी हादसे में मृत मजदूरों के परिवारजनों को सहायता राशि का चेक वितरित करेंगे। साथ ही श्रमिकों का पंजीकरण किया जाएगा। फिर पंचायत प्रतिनिधियों का सम्मेलन होगा। जिसमें उपमुख्यमंत्री के साथ ग्राम्य विकास मंत्री मोती सिंह, श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य सीधे पंचायत प्रतिनिधियों से रूबरू होंगे। इस कार्यक्रम का संयोजन कभी प्रियंका गांधी के करीबी रहे विधान परिषद सदस्य दिनेश प्रताप सिंह कर रहे हैं।

आज कुछ नए चेहरे थामेंगे कांग्रेसी झंडा

रायबरेली की सदर विधायक अदिति सिंह का इन दिनों पार्टी लाइन से हटकर बीजेपी के करीब दिख रही हैं। ऐसे में प्रियंका वाड्रा ने उनकी भरपाई के लिए उनके ही घर में सेंध लगाते हुए अदिति के चचेरे भाई मनीष सिंह को बुधवार को कांग्रेस का दामन थमा सकती है।

अदिति के चचेरे भाई हैं मनीष सिंह

मनीष सिंह पूर्व सांसद अशोक सिंह के बेटे हैं। अशोक सिंह सांसद के अलावा विधायक और जिला पंचायत अध्यक्ष भी रह चुके हैं। मनीष 2017 में बसपा से रायबरेली के हरचंद्रपुर विधानसभा सीट से चुनाव लड़े थे। लेकिन, कांग्रेस प्रत्याशी राकेश सिंह के हाथों हार गए थे। रायबरेली के बदलते सियासी माहौल को देखते हुए मनीष सिंह कांग्रेस में वापसी कर रहे हैं। संभव है कि बुधवार को मनीष सिंह को कांग्रेस महासचिव पार्टी की सदस्यता दिलाएं।

मनीष ने कहा कि रायबरेली कांग्रेस का गढ़ है और उन्होंने प्रियंका की राजनीति से प्रभावित होकर कांग्रेस में शामिल होने का फैसला किया है। अदिति सिंह की बीजेपी से नजदीकी के सवाल पर मनीष ने कहाकि परिवार अलग जगह और राजनीति अपनी जगह है। मनीष ने कहा कि मेरे पिता से लेकर चाचा तक कांग्रेसी रहे हैं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस