रायबरेली : आजादी के इतिहास में दूसरे जलियांवाला बाग के रूप में प्रसिद्ध सरेनी के नाम पर बने विधानसभा क्षेत्र में कभी कांग्रेस का दबदबा था। समय के साथ सपा फिर भाजपा ने कब्जा जमाया। एक बार फिर से कांग्रेस अपनी खोई जमीन पाने के लिए प्रयासरत है। यह विधान सभा तीन विकास खंड सरेनी, लालगंज व आंशिक डलमऊ को मिलाकर बनी है।

तीन बार से मुख्य मुकाबले में है बसपा

पिछले तीन चुनावों में बसपा ही मुख्य मुकाबले में बनी हुई है पर अब तक कभी यहां उसे जीत नहीं मिली है। 2007 में उमाशंकर त्रिवेदी को बसपा ने मैदान में उतारा। इन्हें 30609 मत मिले। 2012 में बसपा ने प्रत्याशी बदला और सुशील यादव चुनाव लड़े और 48663 मत प्राप्त किया। 2017 में ठाकुर प्रसाद यादव को बसपा ने प्रत्याशी बनाया उन्हें 52866 मत मिले।

अब इनसे है पहचान

लालगंज में आधुनिक रेलडिब्बा कारखाना तथा राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड का रेल पहिया कारखाना है। धार्मिक स्थल

बाल्हेश्वर मजरे ऐहार गांव में सुप्रसिद्ध बाल्हेश्वर महादेव का मंदिर है। सरेनी में सोहलेश्वर महादेव तथा गेंगासो में गंगातट पर मुंडमालेश्वर तथा माता संकटा मंदिर सुदूर तक प्रसिद्ध हैं। वहीं डलमऊ में लगने वाला मेला प्रांतीय मेला है। मिला रोजगार का अवसर

लालगंज में आधुनिक रेलडिब्बा कारखाना में आउटसोर्सिंग के तहत भारी संख्या में युवाओं को रोजगार मिला है। कृषि उत्पादन मंडी समिति स्थित सब्जी की आढ़तों में लोग मजदूरी कर रहे हैं। दूर दराज के इलाकों से लोग मजदूरी करने लालगंज आते हैं।

इनकी अब भी है जरूरत

लालगंज में राजकीय बस स्टेशन बना है, लेकिन कभी बसे नहीं रूकती। बसों के ठहराव समेत महोबा, झांसी, जयपुर आदि के लिए सीधी बस सेवा की जरूरत है। कोलकाता, गुजरात, आदि के लिए दूरगामी रेलगाड़ियों को चलाए जाने के साथ ही यात्री गाड़ियों की संख्या बढ़ाए जाने, मुंसिफ न्यायालय की स्थापना कराने, राजकीय महिला महाविद्यालय, अस्पतालों में विशेषज्ञ चिकित्सकों की तैनाती की दरकार है।

182-विधान सभा क्षेत्र सरेनी

कुल बूथ-444

(322 बूथ लालगंज व सरेनी तथा 122 बूथ डलमऊ में)

कुल मतदान केंद्र - 292

वल्नरेबल बूथ-05 (रामबाग गहरौली, भोजपुर, कोटिया ऐहतमाली, बेहटाकला, कहिजर)

क्रिटिकल बूथ-71 एक नजर में मतदाता

कुल मतदाता-369417

पुरूष मतदाता-192126

महिला मतदाता-177283

थर्डजेंडर मतदाता-08

जातिगत मतदाता (अनुमानित)

ब्राह्माण- एक लाख 21 हजार

क्षत्रिय- 97 हजार

पिछड़ा- 72 हजार

दलित- 54 हजार

मुस्लिम-25 हजार कब कौन बना विधायक

2017 धीरेंद्र बहादुर सिंह भाजपा 65873

2012 देवेंद्र प्रताप सिंह सपा 61666

2007 अशोक कुमार सिंह कांग्रेस 53938

2002 देवेंद्र प्रताप सिंह सपा 32837

1996 अशोक कुमार सिंह सपा 47863

1993 गिरीश नारायण पांडेय भाजपा 36835

1991 गिरीश नारायण पांडेय भाजपा 22795

1989 इंद्रेश विक्रम सिंह कांग्रेस 45577

1985 सुरेंद्र बहादुर सिंह निर्दलीय 61269

1980 सुनीता चौहान कांग्रेस 21943

1977 सुनीता चौहान कांग्रेस 28457

1974 शिव शंकर सिंह कांग्रेस 27776

1972 रितुराज सिंह कांग्रेस ----

1969 गुप्तार सिंह कांग्रेस ---

1967 गुप्तार सिंह कांग्रेस ---

1962 गुप्तार सिंह कांग्रेस --

Edited By: Jagran