रायबरेली : नगर के विकास पर नगर पालिका परिषद 85.86 करोड़ रुपये खर्च करेगी। मंगलवार को बोर्ड की हंगामेदार बैठक में इसका प्रस्ताव पास हुआ। सड़क, प्रकाश, सीवर, सफाई समेत अन्य व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने पर यह बजट लगाया जाएगा।

सुपर मार्केट स्थित नगर पालिका परिषद कार्यालय के सभागार में बोर्ड की बैठक हुई। नपाप अध्यक्ष पूर्णिमा श्रीवास्तव इसकी अध्यक्षता कर रहीं थीं। नगर के विकास पर चर्चा करने के लिए तमाम सभासद इसमें शामिल हुए। अधिशासी अधिकारी आशीष कुमार सिंह ने आय-व्यय की जानकारी दी। 85,86,61,768 रुपये से विकास कार्यों का बजट बैठक में पास हुआ। सभासदों ने अपनी-अपनी बात रखी। सड़क, प्रकाश, सीवर, सफाई समेत अन्य जनहित के मुद्दे उठाए। अध्यक्ष ने उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया। सभासद संजय सिंह, सतीश मिश्र, पूनम तिवारी आदि मौजूद रहे।

इनसेट

37.54 करोड़ - वेतन, पेंशन और एरियर पर

11.52 करोड़ - सफाई व्यवस्था पर

18.60 करोड़ - भवन, सड़क, नाला-नाली मरम्मत व निर्माण

09.60 करोड़ - जलापूर्ति व्यवस्था

2.27 करोड़ - मार्ग प्रकाश

नोट - विकास कार्यों पर खर्च के यह अनुमानित आंकड़े नपाप से मिले। स्वकर प्रणाली पर रहा संशय

सभासद पूनम तिवारी ने कहा कि नए टैक्स वाली स्वकर प्रणाली लागू नहीं होगा। अब पुराना टैक्स ही वसूला जाएगा। बोर्ड की बैठक में इसका प्रस्ताव पास हो गया है। वहीं इस संबंध में जब अधिशासी अधिकारी आशीष कुमार सिंह से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है। बाकायदे गजट कराकर नियमों के अनुरूप स्वकर प्रणाली लागू की गई है और वह अमल में रहेगी। किसी के कहने से वह हटने वाली नहीं है।

Edited By: Jagran