तीन घरों से 10 लाख के जेवरात व नकदी चोरी

रायबरेली : चांदा गांव में बुधवार की रात चोरों ने तीन घरों को निशाना बनाया और करीब 10 लाख के जेवरात व नकदी पार कर दी। चोरी की वारदातों की जानकारी होते ही ग्रामीण आक्रोशित हो गए और पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए कहाकि पुलिस गश्त न होने के कारण चोर वारदातों को अंजाम देकर निकल गए। चांदा गांव निवासी सुनील सिंह ने बताया कि रात में वह परिवार के लोगों के साथ घर के बाहर के कमरे में सो रहे थे। उनके कमरे में रखी अलमारी में दूसरे कमरे की अलमारी की चाभी रखी थी। चोर पहले उनके कमरे में घुसे और अलमारी से चाभी निकाल ले गए, फिर दूसरे कमरे का ताला खोलकर अलमारी में रखे करीब पांच लाख के सोने चांदी के आभूषण व दो हजार रुपये पार कर दी। चोर इतने शातिर थे कि उन्होंने आर्टिफिशियल ज्वैलरी को हाथ तक नहीं लगाया। चोरों ने कमरे में ताला लगाते हुए किचन में जाकर पानी पिया और चाभी वहीं रख दी। सुबह छह बजे के लगभग सुनील की पत्नी एकता किचन में गई तो फ्रिज से बाहर बोतल और चाभी रखी देखी। शंका होने पर वह जब कमरे में गई तो चोरी की जानकारी हुई। इसी गांव के सत्येंद्र बहादुर सिंह के घर से भी नकदी व दो जोड़ी पायल गायब थे। चांदा के ही गंगाशरण सिंह के घर को भी चोरों ने अपना निशाना बनाया। चोरों ने केवल उसी कमरे का ताला तोड़ा, जिसमें अलमारी रखी थी। इनके घर से करीब पांच लाख के सोने-चांदी के आभूषण व 12 हजार रुपये नकदी चोरी हुई है। कोतवाल राजेश कुमार सिंह ने बताया कि जल्द ही वारदात का राजफाश किया जाएगा।

Edited By: Jagran