दिनेश सिंह, प्रतापगढ़ । कुछ दिनों में प्रयागराज के सिविल लाइन जैसा अपना शहर भी सुंदर और सुसज्जित दिखेगा। शहर में जहां हाईवे करीब दोगुना चौड़ा हो जाएगा, वहीं बीच में बनने वाला डिवाइडर शहर की खूबसूरती को चार चांद लगा देगा। बस इंतजार है प्रोजेक्ट को मंजूरी मिलने का। पीडब्ल्यूडी ने इसके लिए 198.98 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट तैयार करके शासन को भेज दिया है। जिले का प्रमुख हाईवे प्रयागराज-अयोध्या के बीच शहर से होकर गुजरा है। यह हाईवे दो धार्मिक नगरी संगम और अयोध्या को जोड़ता है। दोनों धार्मिकों नगरी की एक दूसरी से दूरी करीब 162 किमी है। भुपियामऊ चौराहा से प्रयागराज की ओर हाईवे फोरलेन बन गया। इधर, सोनांवा (चिलबिला) से पयागीपुर (सुल्तानपुर) तक हाईवे चौड़ा बन गया है। बस बचा है सोनावां से भुपियामऊ चौराहे तक करीब 10.8 किमी हाईवे। यह अधिकांश हिस्सा शहर का है। शहर से गुजरा यह हाईवे करीब 10 मीटर चौड़ा है। वाहनों के आवागमन को देखते हुए हाईवे की चौड़ाई कम पड़ जाती है। ऐसे में काफी दिनों से शहर के हिस्से के हाईवे को फोर लेन बनाने की कवायद चल रही है। फिर हाईवे को फोरलेन का प्रोजेक्ट बनाने का जिम्मा सौंपा गया लोक निर्माण विभाग को। सोनावां से लेकर भुपियामऊ चौराहे तक हाईवे को 10 मीटर से बढ़ाकर 18 मीटर चौड़ा किया जाएगा। बीच में डिवाइडर बनेगा। डिवाइडर के दोनों ओर सड़क नौ-नौ मीटर चौड़ी रहेगी। फिर दोनों ओर कवर्ड नाला रहेगा, हाईवे सीमेंटेड बनेगा। वैसे तो पूरा प्रोजेक्ट 198.98 करोड़ रुपये का है। इसमें हाईवे को फोरलेन बनाने में करीब 116.65 करोड़ रुपये की लागत आएगी। जिस तरह से प्रोजेक्ट डिजाइन किया गया है, बनने के बाद अपना शहर प्रयागराज के सिविल लाइन की तरह सुंदर दिखने लगेगा। --- शिफ्ट होंगे बिजली के खंभे हाईवे को फोरलेन बनाने के दौरान बिजली के खंभों व तार को हाईवे के किनारे शिफ्ट किया जाएगा। इस पर 5.62 करोड़ रुपये खर्च होंगे। -- टूटेंगे चौक के पास के भवन शहर में चौक घंटाघर के पास हाईवे सिकुड़ गया है। हाईवे की पटरी से सटकर दुकान और मकान बने हैं। ऐसे में हाईवे को 18 मीटर चौड़ा करने में कुछ मकानों व दुकानों का हिस्सा आएगा। चौक के दोनों ओर 75-750 मीटर तक भवन टूटेंगे। इसके लिए मुआवजे का भी प्रावधान किया गया है। कुल 76 करोड़ रुपये मुआवजा बंटेगा। यह मुआवजा उन्हीं को मिलेगा, जिन्होंने जमीन का बैनामा कराया है। -- वन विभाग को देंगे 70 लाख रुपये हाईवे को फोरलेन बनाने के दौरान कई पेड़ भी काटने पड़ेंगे। इसके लिए वन विभाग को 70 लाख रुपये चुकता करना पड़ेगा। ------- --सोनावां से भुपियामऊ चौराहा तक हाईवे को फोर लेन बनाने के लिए 198.98 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट तैयार किया गया है। प्रोजेक्ट को शासन भेज दिया गया है- गंगा शरण, सहायक अभियंता, पीडब्ल्यूडी

Edited By: Jagran