महेशगंज : बदमाशों ने मजदूर का अपहरण कर उसे जमकर पीटा। इसके बाद उसे तालाब में फेंककर भाग निकले। महेशगंज थाना क्षेत्र के गोपालापुर गांव निवासी तुलसी राम यादव (40) बुधवार की शाम साइकिल से सरसों की पेराई कराने हीरागंज बाजार गया था। वहां से वापस लौटते समय शाम करीब पांच बजे बलीपुर गांव के पास बने पुल पर सामने से दो बाइक पर चार नकाबपोश बदमाश पहुंचे। उसको ओवरटेक कर मारना पीटना शुरू कर दिया। वह शोर मचाना चाहा तो नकाबपोश लोगों ने एक बाइक पर उसको बीच में बैठाकर उसका मुंह कपड़े से बांध दिया। अपहरणकर्ता उसे लेकर मसवन गांव तक गए। तुलसी राम का आरोप है उस पर फायर भी किया गया, लेकिन फायर मिस हो गया। उसे बेहोशी और मरणासन्न स्थिति में नायर देवी धाम के पास बने तालाब में फेंककर भाग निकले। जब उसको होश आया तो वह लड़खड़ाते हुए अपने रिश्तेदार के यहां नया का पुरवा गांव पहुंचा। रिश्तेदारों ने इसकी सूचना तुलसी राम के परिजनों व पुलिस को दी। सूचना पर डायल 100 पुलिस मौके पर पहुंची और तुलसी राम को इलाज के लिए कुंडा भेज दिया। यहां से प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने गंभीर हालत में उसे इलाहाबाद रेफर कर दिया। इलाज कराने के बाद गुरुवार को वह थाने पहुंचा और अज्ञात बदमाशों के खिलाफ तहरीर दी। एसओ महेशगंज हरिनाथ भारती का कहना है कि ऐसा कोई मामला उनके संज्ञान में नहीं है। पीड़ित थाने आता है तो कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran