जागरण संवाददाता, प्रतापगढ़ : रेलवे द्वारा ए श्रेणी में शुमार प्रतापगढ़ जंक्शन के कायाकल्प का काम फिर से शुरू हुआ है। हालांकि बजट न होने से अभी रेल लाइन के दोहरीकरण के बाकी काम न होकर केवल प्लेटफार्म की फर्श का ही कार्य हो रहा है।

जंक्शन की सूरत बदलने को करोड़ों का मेगा प्रोजेक्ट केंद्र सरकार से दो साल पहले मिला था। इसमें जंक्शन पर काफी काम हो गया है। शेड को बदला गया है, टाइल्स, बेंच ठीक कराई गई है। प्रकाश की मुकम्मल व्यवस्था हो गई है। दोहरी लाइन के लिए सई नदी पर नया रेल पुल भी बन रहा था, लेकिन लाकडाउन में काम बंद हो गया था। अब वह भी शुरू होगा।

कोरोना काल में मरम्मत कार्यों के लिए बजट न होना रेल प्रशासन के लिए समस्या है। इधर लगातार श्रमिक स्पेशल ट्रेन के आने से मजदूरों की भीड़ व अफसरों के जमावड़े से मरम्मत का काम भी रुक गया था। अब ट्रेन कम हो गई हैं। ऐसे में काम धीर-धीरे गति लेगा। मरम्मत के लिए तोड़े गए प्लेटफार्म नंबर दो और तीन की फर्श को अब मंद गति से ही सही बनाया जाने लगा है। रेलवे के एईएन निर्माण राकेश कुमार का कहना है कि रेल संचालन के साथ ही निर्माण कार्य अब धीरे-धीरे पटरी पर आएगा। रेल पुल के बनने में बाधक बनी हाईटेंशन लाइन हटाने को बिजली विभाग से फिर से कहा गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस