प्रतापगढ़ : निजी अस्पताल में बच्चे को जन्म देने के बाद महिला की जान चली गई। इससे भड़के परिजनों ने जमकर हंगामा किया और अस्पताल में तोड़फोड़ भी की। हालांकि, पुलिस को कोई तहरीर नहीं दी गई है। मामले की शिकायत मृतका के परिजनों ने सीएमओ से की है।

मानिकपुर थाना क्षेत्र के मादपुर सहिजनी गांव निवासी अनुज कुमार की पत्नी रेनू को प्रसव के लिए गुरुवार दोपहर कुंडा कस्बे के करेंटी रोड स्थित एक नर्सिग होम में भर्ती कराया गया। दोपहर करीब दो बजे रेनू ने एक बच्चे को जन्म दिया। कुछ देर बाद महिला की हालत बिगड़ने लगी। अनुज का कहना था कि चिकित्सकों ने उसे रेफर नहीं किया, जिससे कुछ देर बाद रेनू की मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि महिला की मौत के बाद उसे कई घंटे वेंटीलेटर पर रखा गया, ताकि पैसा वसूला जा सके। देर शाम जब चिकित्सक द्वारा रेनू को मृत घोषित कर दिया तो परिजनों का गुस्सा फूट पड़ा और जमकर तोड़फोड़ की। परिजनों ने जब ऑक्सीजन सिलेंडर देखा तो उसमें ऑक्सीजन ही नहीं थी। बवाल होते देख स्टाफ समेत चिकित्सक भाग निकले। उधर परिजन घटना के बाद शव लेकर चले गए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस