प्रतापगढ़ : संग्रामगढ़ थाना क्षेत्र के डंडिया नौढि़या गांव में विवाहिता का शव दफनाने को लेकर विवाद हो गया। सूचना पर पहुंचे सीओ ने मृतका के मायके पक्ष को आश्वासन देकर शांत कराया। इसके बाद शव दफनाया गया।

संग्रामगढ़ थाना क्षेत्र के डंडिया नौढि़या की सीमा (32) पत्नी राजेश ने शनिवार को घर के अंदर फांसी लगाकर अपनी जान दे दी थी। इसमें मृतका के पिता जगन्नाथ यादव निवासी भारतगढ़ थाना संग्रामगढ़ ने पति राजेश पर दहेज की मांग को लेकर अपनी पुत्री की हत्या का मुकदमा संग्रामगढ़ थाने में दर्ज कराया था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया था। पोस्टमार्टम होने के बाद सोमवार को शव घर लाया गया तो मायके पक्ष के लोग शव लेकर मृतका की ससुराल पहुंच गए और उसके घर के सामने शव दफन करने के लिए गड्ढा खोदने लगे। जब इसकी जानकारी एसओ तुषार त्यागी को हुई तो वह मौके पर पहुंचे और मायके पक्ष के लोगों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह असफल रहे। इसके बाद उन्होंने मामले की सूचना उच्चाधिकारियों को दी। सूचना मिलने पर सीओ लालगंज रमेश चंद्र राय मौके पहुंचे और आक्रोशित लोगों से वार्ता की। इसमें मृतका की बेटी के नाम पूरी जमीन की वसीयत करने का आश्वासन दिया गया, जिस पर आक्रोशित लोग शांत हुए और शव का घर से कुछ दूर पर अंतिम संस्कार कर दिया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप