संसू, रानीगंज : गरीबी से तंग आकर प्राइवेट शिक्षक ने मालगाड़ी के सामने कूदकर जान दे दी। सूचना पर जीआरपी व आरपीएफ पुलिस मौके पर पहुंचकर शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

कंधई थाना क्षेत्र के बसीरपुर गांव निवासी कमलेश चन्द्र शुक्ल (50) वर्ष पुत्र रामकिशोर रानीगंज में सरस्वती विद्या मंदिर पूरेगोलिया में पढ़ाते थे। सोमवार को वह साइकिल से रानीगंज से वापस घर आ रहा थे कि अचानक वह साइकिल लेकर दांदूपुर रेलवे स्टेशन पर पहुंच गए। इसके बाद वह बेंच पर लेटकर आराम करने लगे। इसी दौरान वे उठे और सामने से आ रही मालगाड़ी के सामने कूद गए। इससे उनके शरीर के चिथड़े उड़ गए। सूचना पर पत्नी पम्मी देवी, बेटा विपिन शुक्ल व गुड्डू सहित गांव के लोग पहुंच गए। घटना की सूचना स्टेशन मास्टर सीताराम पांडेय ने रेलवे पुलिस को दी। परिजनों की मानें तो गरीबी से तंग आकर उसने यह कदम उठाया है। वैसे घर की माली हालत भी ठीक नहीं है। बेटा घर पर रहकर किसानी करता है। मृतक प्राइवेट विद्यालय में पढ़ाकर परिवार का जीविकोपार्जन करते थे।

By Jagran