प्रतापगढ़ : ग्राम पंचायत के विकास कार्यों की जांच को लेकर पत्नी ने अपने प्रधान पति के खिलाफ विकास कार्य में अनियमितता का आरोप लगाते हुए प्रमुख सचिव को शिकायती प्रार्थना पत्र भेजकर जांच की मांग की थी। इस पर शुक्रवार को जांच टीम गांव पहुंची।

मामला ब्लाक लक्ष्मणपुर अंतर्गत ग्राम सभा हरिहरपुर कैलहा ग्राम सभा का है। ग्राम सभा के प्रधान मो. रहीस के खिलाफ खुद उनकी पत्नी वकीला बानो द्वारा बीते 15 फरवरी को प्रमुख सचिव लखनऊ को शिकायती प्रार्थना पत्र भेजकर गांव में कराए गए विकास कार्यों में अनियमितता का आरोप लगाते हुए जांच की मांग की। शिकायती पत्र में आवास, खडंजा निर्माण, चकमार्ग व शौचालय के कार्यों में अनियमितता का आरोप लगाया गया है। यह भी आरोप है कि प्रधान द्वारा अपात्रों को आवास व शौचालय दे दिया गया। आवास और शौचालय देने के एवज में सुविधा शुल्क भी लिया गया। मानक के विपरीत खड़ंजा व चकमार्ग का निर्माण कराया गया है। इस बाबत डीएम को भी शिकायती पत्र भेजा गया, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। इस मामले में शुक्रवार को सीडीपीओ लक्ष्मणपुर ममता सिंह व सहायक अभियंता सिचाई राजेंद्र पाल ने गांव पहुंचकर जांच की। प्रधान तथा ग्रामीणों से पूछताछ की। सीडीपीओ का कहना है कि शिकायत की बिदुवार जांच की गई है। शिकायतकर्ता के बाहर होने के कारण उससे बात नहीं हो सकी। प्रधान व ग्रामीणों से भी पूछताछ की गई। जांच रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेजी जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस