जागरण संवाददाता, प्रतापगढ़ : जिला पंचायत की चहारदीवारी को तोड़कर उसमें दरवाजा लगाने के पुलिस के प्रयास पर पानी फिर गया। दैनिक जागरण में यह मामला सुर्खियों में आते ही पुलिस की इतनी किरकिरी हुई कि वह बिना देर किए बैकफुट पर आ गई। जबरन खोले गए रास्ते को आनन-फानन में खुद पुलिस को ही बंद करना पड़ा।

नगर स्थित जिला पंचायत कार्यालय परिसर में अध्यक्ष के आवास के पीछे लान है। उसमें पौधे लगाए गए हैं। कार्यालय और आवास के चारों ओर काफी ऊंची चहारदीवारी बनी है। इसके बाहर अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी और पश्चिमी के आवास हैं। पांच दिन पहले जिला पंचायत अध्यक्ष के आवास के पीछे एएसपी पश्चिमी के आवास के बगल से पंचायत की चहारदीवारी का कुछ हिस्सा पुलिस कर्मियों ने तोड़ दिया। यही नहीं उसमें दरवाजा लगाने के लिए जगह बना ली। वह लान का उपयोग जलनिकासी जैसे कार्य में करने की मंशा से सरकारी संपत्ति में जबरन घुसने का इंतजाम कर डाले। पंचायत कर्मियों ने रोकना चाहा तो उनको वर्दी का रौब दिखाकर सिपाहियों द्वारा वापस कर दिया गया। अपर मुख्य अधिकारी पुनीत वर्मा ने अध्यक्ष जिला पंचायत उमा शंकर यादव तथा एसपी को मामले की जानकारी दी। इसके बाद भी पुलिस वाले खोले गए रास्ते में लोहे का दरवाजा लगाने को आमादा रहे।

शनिवार को पुलिस की इस दबंगई को दैनिक जागरण ने प्रमुखता से प्रकाशित किया तो हड़कंप मच गया। हर ओर पुलिस की छीछालेदर होने लगी। इधर पंचायत की ओर से मामले की जानकारी व जागरण की न्यूज कटिग डीजीपी को मेल करने की तैयारी होने लगी। इसकी भनक पाकर पुलिस ने निकाली गई ईंटों से फिलहाल रास्ते को बंद कर दिया। यही नहीं एएसपी पश्चिमी दिनेश कुमार द्विवेदी शनिवार को दोपहर में पंचायत कार्यालय पहुंचे। अध्यक्ष से मिलकर कहा कि उनका दरवाजा लगाने का मकसद नहीं था। लेबरों से जल निकासी को होल करने को कहा गया था, वह दीवार को अधिक तोड़ दिए। इसे हम बंद करवा दे रहे हैं। मौके पर पहुंचे अध्यक्ष उमा शंकर यादव, सदस्य जिपं अनिल कुमार सिंह लाल साहब ने पूरा मामला समझा व पुलिस को फिर कभी ऐसा प्रयास न करने की हिदायत भी दी। एएमए पुनीत कुमार वर्मा से कहा कि वह मौके पर नजर रखें। अगर ठीक तरह से पुलिस रास्ता बंद नहीं करती तो तत्काल बताएं।

--

एएसपी पश्चिमी आए थे। उन्होंने इसे लेबरों की गलती बताकर रास्ता बंद कराने को कहा है। अगर पुलिस ऐसा नहीं करती तो हम डीजीपी व मुख्यमंत्री को मामले की सूचना देकर कार्रवाई की मांग करेंगे।

-उमा शंकर यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस