संसू, प्रतापगढ़ : जिले भर के लोगों के लिए राहत भरी खबर है। अब एक से तीन किलोवाट के सोलर सिस्टम आनग्रिड पर 40 फीसद सब्सिडी का लाभ ले सकेंगे। इसके अलावा चार से 10 किलोवाट पर 20 प्रतिशत सब्सिडी मिलेगी। कामर्शियल पर कोई सब्सिडी नहीं मिलेगी। इससे लोगों को दो फायदा मिलेगा। एक तो बिजली की समस्या दूर हो जाएगी और अधिक बिल जमा करने से निजात मिल सकेगी।

सोलर सिस्टम लगवाने पर पर एक ओर जहां कम बिजली का बिल चुकाना पड़ेगा वहीं दूसरी ओर अधिक सब्सिडी का लाभ भी मिलेगा। नेडा व प्राइवेट कंपनियों द्वारा लगाए जा रहे पावर सिस्टम सफल साबित हो रहे हैं। पावर सिस्टम लगवाने के लिए भारत सरकार की सोलर से जुड़ी वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इसके बाद पेमेंट भी जमा करना होगा। वेबसाइट पर अपलोड होने के बाद नेडा सब्सिडी का लाभ भी देगा। पहले जहां एक से तीन किलो वाट पर 30 फीसद सब्सिडी मिलती थी वहीं अब 40 प्रतिशत मिल रही है। चार से 10 किलो वाट पर पहले 30 फीसद सब्सिडी मिलती थी। इसमें कटौती की गई है। अब केवल 20 फीसद सब्सिडी मिलेगी। खास बात यह है कि सिस्टम लगने के बाद लगभग आधा बिल कम हो जाता है। बिजली का कनेक्शन होने पर मिलेगा सिस्टम

सोलर पावर सिस्टम लगवाने के लिए बिजली का कनेक्शन होना अनिवार्य है। आवेदन के दौरान बिजली का बिल लगाना पड़ेगा। बिना कनेक्शन के आवेदन नहीं होगा। कनेक्शन लेने वालों को ही इसका लाभ मिलेगा। विकास भवन व अन्य विभागों में लगे हैं सिस्टम

सोलर पावर सिस्टम की डिमांड अभी रफ्तार नहीं पकड़ रही है। कई सरकारी विभागों में यह सिस्टम लगाया जा रहा है। विकास भवन, रेलवे स्टेशन, कई प्राइवेट स्कूल, मनगढ़ धाम समेत अन्य कई जगहों पर यह सिस्टम लगाया गया है। कामर्शियल में नही मिलती सब्सिडी

कोल्ड स्टोरेज, होटल समेत कामर्शियल भवनों पर सिस्टम तो लगाया जा सकता है, लेकिन इसमें सब्सिडी देने का कोई प्रावधान नहीं है। यानि कि इसमें सब्सिडी का लाभ नहीं मिलता है। सोलर पावर सिस्टम लगवाने के लिए ऑनलाइन आवेदन करना पड़ता है। बिजली का कनेक्शन होने पर ही इसका लाभ मिलता है। सिस्टम लगने से लोगों को अधिक बिल जमा करने से निजात मिल जाती है।

-रमेश चंद्र कुशवाहा, परियोजना अधिकारी (नेडा)

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस