रानीगंज, प्रतापगढ़ : जमीन के विवाद में हुई मारपीट की तीन अलग-अलग घटनाओं में दस लोग घायल हो गए। घटनाओं की तहरीर थाने में दी गई है। रानीगंज थाना क्षेत्र के सराय सेतराय गांव में रविवार को सुबह छह बजे जमीन के विवाद को लेकर दो पक्षों में जमकर लाठी डंडे चले। इसमें दोनों पक्षों से आधा दर्जन लोगों को चोटें आईं। गांव के शिवशंकर विश्वकर्मा ने थाने पर तहरीर देकर आरोप लगाया है कि आबादी की जमीन पर रखी लकड़ी के विवाद को लेकर पड़ोस के लोगों ने गाली गलौज करते हुए मारपीट की। इसमें दिव्यांग राजेश, अभिषेक सहित तीन लोगों को चोटें आईं। वहीं दूसरे पक्ष से टेढ़ू मुसहर ने आरोप लगाया कि सुबह छह बजे उसकी पत्नी कुसुम बर्तन धो रही थी। रंजिश को लेकर विपक्ष के लोग गाली गलौज करते हुए आए और उसे मारे पीटे। इसमे टेढ़ू व हीरावती सहित तीन लोगों को चोटें आईं।

एक अन्य घटना पचरास गांव में हुई। यहां मामूली कहासुनी को लेकर विवाद इस कदर बढ़ा कि पड़ोस के लोगों ने शिवशंकर (25) पुत्र देवनारायण की पिटाई कर दी। घायल अवस्था में परिजन उसे इलाज के लिए सीएचसी रानीगंज ले आए। तहरीर थाने पर दी गई है। सुवंसा प्रतिनिधि के अनुसार फतनपुर थाना क्षेत्र के पूरेखरगराय पहलवान का पूरा गांव में रविवार को सुबह दस बजे आबादी के जमीन के विवाद में दो पक्षों में मारपीट हुई। इसमें तीन लोग घायल हुए। गांव के अजीत प्रताप सिंह अपने घर के सामने वाहन को धो रहे थे। पानी बहने का विरोध पड़ोस के हरिप्रताप सिंह ने किया। इसे लेकर दोनों में मारपीट हुई, जिसमें अनूप कुमार सिंह सहित तीन लोग घायल हुए। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को सीएचसी गौरा ले आई। दोनों पक्षों ने एक दूसरे के खिलाफ थाना फतनपुर में तहरीर दी है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप