संवाद सूत्र, प्रतापगढ़ : घर छोड़कर शहर व अन्य जगहों पर बसे लोगों का नाम मतदाता सूची में शामिल होने को लेकर रार गई है। वहीं प्रशासन ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है। जांच के आधार पर ही आगे की कार्रवाई होगी। मामला संडवा चंद्रिका ब्लॉक के रसूलपुर गुलरहा गांव का है। गांव में करीब 60 लोगों का नाम फर्जी तरीके से शामिल किया गया है, जिनका गांव से कोई सरोकार नहीं है। एक ओर जहां फर्जी लोगों का नाम कटवाने के लिए सांसद संगम लाल गुप्ता ने डीएम से शिकायत की है, वहीं दूसरे पक्ष को लेकर विधायक विश्वनाथगंज पैरवी कर रहे हैं।

क्षेत्र के रसूलपुर गुलरहा गांव में 80 ऐसे लोगों का नाम मतदाता सूची में शामिल किया गया है, जो यहां से करीब पांच से 10 साल पहले शहर व संडवा खास में शिफ्ट हो चुके हैं। पंचायत चुनाव के मद्देनजर जब गांव में मतदाता सूची में दर्जनों लोगों का नाम शामिल होने की जानकारी हुई तो तरह-तरह की शिकायतें आनी शुरू हो गईं। इस मामले को लेकर सांसद संगम लाल गुप्ता व विधायक विश्वनाथगंज डॉ. आरके वर्मा की शिकायत पर डीएम ने मामले की जांच एसडीएम सदर से रोकने को कहा। शिकायत को संज्ञान में लेते हुए तहसीलदार न्यायिक जावेद अंसारी के पर्यवेक्षण में राजस्व निरीक्षक शिव शंकर, भुल्लन प्रसाद यादव, एडीओ पंचायत दयाराम, कल्याण सिंह व लेखपाल श्याम नारायण सिंह को जांच करने की जिम्मेदारी मिली। टीम जब गांव में जांच करने पहुंची तो पाया कि इसमें से 60 ऐसे लोगों का नाम मतदाता सूची में हैं, जिनका घर गांव में नहीं है। इसमें से अधिकांश लोग लक्ष्मणपुर ब्लाक के संडवा दुबान गांव के रहने वाले हैं। इसमें से चार लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं इस गांव की एक युवती शादी के बाद अपने ससुराल जा चुकी है, उसका भी नाम अभी मतदाता सूची में शामिल है।

---

जांच कराने के बाद जिन लोगों का नाम दो जगहों पर है। उनको नोटिस जारी हुई है। अपना पक्ष रखने के लिए उनको बुलाया गया है। साक्ष्य मिलने के बाद नियमानुसार कार्रवाई होगी।

-मोहन लाल गुप्ता, एसडीएम सदर

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021