संसू, बाबागंज : महेशगंज थाना क्षेत्र के टेढ़ा सरैया गांव निवासी राम बहादुर यादव (65) मिल में नौकरी करता था। कुछ वर्ष पूर्व वह सेवानिवृत्त होने के बाद अपने घर पर रह रहा था। शुक्रवार की शाम उसने जहरीला पदार्थ खा लिया। इससे उसकी हालत बिगड़ गई। परिजन जब तक इलाज के लिए ले जाते तब तक उसकी सांसे थम गईं। मौत की खबर सुनते ही परिजन रोने विलखने लगे। परिजन बगैर पुलिस को सूचना दिए ही शनिवार की सुबह अंतिम संस्कार के लिए ले जा रहे थे। इसी बीच किसी ने मामले की सूचना पुलिस को दे दी। एसआइ बैकुंठ नाथ गांव पहुंचे तो पता चला कि शव को अंतिम संस्कार के लिए श्रृंगवेरपुर ले जाया जा रहा है, जो बाघराय थाना क्षेत्र के बिहार बाजार पहुंच चुका है। इस पर वह बिहार बाजार पहुंचे और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक राम बहादुर के एक बेटा रमाकांत और तीन बेटियां है। सभी की शादी हो चुकी है। उधर ग्रामीणों में इस बात की चर्चा जोरों पर रही कि बेटे के उत्पीड़न से आहत होकर राम बहादुर ने ऐसा कदम उठाया है। -

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस