जासं, प्रतापगढ़ : जिले के पट्टी तहसील में आउट लाइन कोर्ट बनाने के प्रस्ताव के विरोध में वकील अपनी मांगों पर कायम हैं। वह इसके औचित्य पर सवाल खड़े कर रहे हैं और उनकी मांग है कि यह न बने। क्रमिक अनशन के दूसरे दिन भी कचहरी में अधिवक्ताओं ने एकजुटता दिखाई।

इस मौके पर अध्यक्ष जूनियर बार एसोसिएशन अयोध्या प्रसाद मिश्र ने कहा कि पट्टी में आउटलाइन कोर्ट स्थापित करने की चल रही कोशिश बंद होनी चाहिए। इसे लेकर अधिवक्ताओं में रोष है। इस मुद्दे पर हम लोग शासन-प्रशासन से खफा हैं। वकीलों ने शनिवार की हड़ताल में प्रतापगढ़ को हाईकोर्ट इलाहाबाद से जोड़े जाने की मांग भी शामिल रही। अनशन में महामंत्री जेपी मिश्र, वरिष्ठ उपाध्यक्ष मुश्ताक अहमद, उपाध्यक्ष मनोज मिश्र, महेश शुक्ला, रवि द्विवेदी, चंद्रकांत यादव, विवेक त्रिपाठी, शिव प्रकाश मिश्र, शक्ति सिंह, चंद्रभवन मिश्र, बद्री नारायण तिवारी, मुक्कू ओझा आदि मौजूद रहे। गौरतलब है कि तीन दिन पहले इसी मसले को लेकर जुलूस निकालकर जाम लगाया था। डिप्टी सीएम समेत कई का पुतला भी जलाया था। अधिवक्ताओं का कहना है कि कुंडा और लालगंज में पहले से ही आउट लाइन कोर्ट चल रही है। ऐसे में पट्टी में इसे न बनाया जाए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस