लालगंज : कोतवाली लालगंज क्षेत्र के भागीपुर कमौरा गांव में मंगलवार सुबह जमीन के विवाद को लेकर चचेरे भाई ने अधेड़ को गोली मार दी। गोली बाएं हाथ में लगी। घायल अधेड़ का राजा प्रताप बहादुर अस्पताल में इलाज चल रहा है।

लालगंज कोतवाली क्षेत्र के भागीपुर कमौरा गांव निवासी चंद्रभान मिश्र उर्फ नन्हे का चचेरे भाई संतोष मिश्र पुत्र ब्रह्मा प्रसाद मिश्र से जमीन पर कब्जे को लेकर विवाद चल आ रहा है। इसका मुकदमा भी कोर्ट में चल रहा है। जमीन पर कब्जे को लेकर इनका आपस में कई बार विवाद भी हो चुका है। चंद्रभान के अनुसार मंगवार को उनके छोटे भाई सूबेदार मिश्र (50) घर से करीब पांच सौ मीटर दूर खेत के पास स्थित गूलर के पेड़ को काटने गए थे। इसी बीच विपक्षी संतोष मिश्र अपने मौसेरे भाई कुलदीप मिश्र के साथ तमंचा लेकर पहुंचा और गाली गलौज करते हुए सूबेदार को गोली मार दी। बाएं हाथ में गोली लगने से वह घायल होकर जमीन पर गिर पड़े, इसके बाद हमलावर भाग निकले।

इधर गोली की आवाज सुनकर सूबेदार के परिवार के लोग मौके पर पहुंचे और घायल सूबेदार को ट्रामा सेंटर लालगंज ले आए। यहां चिकित्सकों ने घायल को राजा प्रताप बहादुर अस्पताल रेफर कर दिया। सीएचसी लालगंज के डा. रामराज ने बताया कि हाथ में गोली लगी है। पेट में चोट का निशान है। कोतवाल कमलेश पाल का कहना है कि घायल के बड़े भाई चंद्रभान की तहरीर पर संतोष मिश्र व उसके मौसेरे भाई कुलदीप के विरुद्ध हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपितों की तलाश में दबिश दी जा रही है।

----

एक दिन पहले भी हुआ था विवाद

सूबेदार मिश्र को गोली मारने के आरोपित उनके चचेरे भाई आरोपित संतोष मिश्र ने आरोप लगाया कि पुरानी रंजिश को लेकर दो जनवरी को दोपहर तीन बजे लाठी डंडे से उसे मारा-पीटा गया। इस मामले में संतोष की तहरीर पर पुलिस ने सोमवार को सूबेदार मिश्र, चंद्रभान मिश्र व कन्हैया लाल मिश्र के खिलाफ मारपीट का मुकदमा दर्ज किया था। घायल सूबेदार मिश्र के पक्ष के लोग घटना को मनगढंत बता रहे हैं। घायल के भाई चंद्रभान के अनुसार जमीन का पारिवारिक बंटवारा हो चुका है। इसके बावजूद आरोपित संतोष आए दिन विवाद करता है।

Edited By: Jagran