संवाद सूत्र., प्रतापगढ़ : यूपी बोर्ड परीक्षा के दौरान मिली गड़बड़ियों पर केंद्र व्यवस्थापक जिम्मेदार होंगे। उनके स्थान पर दूसरे केंद्र व्यवस्थापक की तैनाती के साथ ही एफआइआर भी कराई जाएगी। पिछले दो सालों में 14 केंद्र व्यवस्थापकों को परीक्षा में गड़बड़ी मिलने पर बदल दिया गया था।

18 फरवरी से शुरू हो रही यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा को लेकर जिला प्रशासन ने अभेद्य किलेबंदी की है। परीक्षा में नकल करने व कराने वालों की खैर नहीं होगी। परीक्षा में 199 केंद्र बनाए गए हैं। बीते दिनों केंद्र व्यवस्थापकों की बैठक के दौरान डीएम द्वारा दिए गए निर्देश के क्रम में शिक्षा विभाग ने अल्टरनेट केंद्र व्यवस्थापकों की सूची तैयार कर ली है। जरूरत पड़ने पर केंद्र व्यवस्थापकों को तत्काल बदला जा सकेगा। इसके साथ ही उनके खिलाफ एफआइआर व कठोर कार्रवाई की जाएगी। परीक्षा को नकल विहीन व शांतिपूर्ण ढंग से कराने में जिला प्रशासन और पुलिस विभाग का भी सहयोग लिया जाएगा। शिक्षा विभाग के सचल दल के साथ ही सभी केंद्रों पर दो माइक्रोआब्जर्वर भी तैनात रहेंगे। पिछले दो सालों की बोर्ड की परीक्षा पर नजर डालें तो वर्ष 2018 में 11 व वर्ष 2019 में तीन केंद्र व्यवस्थापकों को बदल दिया गया था। यह कार्रवाई परीक्षा में गड़बड़ी मिलने पर तत्कालीन डीआइओएस ने की थी। इस बार परीक्षा के दौरान छात्र छात्राओं को किसी भी मानसिक दबाव का सामना नहीं करना पड़ेगा। उन्हें स्वस्थ एवं अच्छे माहौल में उनकी परीक्षा कराई जाएगी। जिला विद्यालय निरीक्षक सर्वदा नंद ने बताया कि जिले में शांतिपूर्ण नकल विहीन एवं शुचिता पूर्ण परीक्षा संपन्न कराई जाएगी। कंट्रोलरूम में ड्यूटी पर रहेंगे 28 कर्मचारी

यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए शहर के राजकीय इंटर कॉलेज में डीआइओएस ने 28 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई है। जिन शिक्षकों एवं कर्मचारियों की बोर्ड परीक्षा के कंट्रोल रूम ड्यूटी लगाई गई है उन्हें तत्काल विद्यालय से कार्यमुक्त करने का निर्देश दिया गया है। कंट्रोल रूम में किसी भी प्रकार की शिथिलता पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यहां लगाए गए सभी शिक्षक एवं कर्मचारियों को सोमवार को सुबह 9:30 बजे अपनी उपस्थिति देने को कहा गया है। डीआइओएस सर्वदा नंद ने बताया कि कंट्रोलरूम का प्रभारी राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय देवरी हर्दोपट्टी के प्रधानाचार्य डॉ. राजेंद्र कुमार को बनाया गया है। कंट्रोलरूम में लगाए गए कर्मी किसी विद्यालय के शिक्षक अथवा कर्मचारी से फोन पर बात नहीं करेगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस