जासं, प्रतापगढ़ : किराना आइटम के गोदाम में आग लगने से उसमें रहे एक युवक की दम घुटने से मौत हो गई। इस मामले में युवक के परिजनों ने गोदाम मालिक पर युवक को गोदाम में बंदकर आग लगाकर मार डालने का आरोप लगाते हुए तीन पर हत्या का मुकदमा दर्ज करा दिया। पुलिस ने एक आरोपित को हिरासत में ले लिया।

नगर के रामलीला मैदान में रावण के पुतले के पास किराना व ब्रेकरी के व्यापारी रामलाल जायसवाल का गोदाम है। उसमें दुकान का काफी सामान डंप है। शनिवार को भोर में करीब चार बजे गोदाम से आग की लपटें निकलने लगीं। धुएं का गुबार देख पड़ोसी ने गोदाम मालिक को सूचना दी। उसके बाद फायर सर्विस को बताया गया। दमकल की चार गाड़ियों की मदद से आग पर काबू पाया गया। आग बुझने के बाद जब फायर कर्मी अंदर घुसे व दूसरे कमरे में प्रवेश किया तो वहां करीब 36 साल का एक युवक अचेत पड़ा था। पुलिस ने उसे बाहर निकाला तो उसे वहां रहे लोगों ने पहचान लिया। बताया कि वह गौरव भारती है। उसे तत्काल जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। तब तक युवक के परिजन भी मौके पर उसके बाद अस्पताल पहुंच गए। शव देखकर गौरव के पिता रमाशंकर भारती और मां प्रमिला समेत स्वजन रोने-बिलखने लगे। उनको किसी तरह घर ले जाया गया। घर पर आसपास के बहुत से लोग पहुंचे व स्वजनों को सांत्वना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने गोदाम मालिक के पुत्र को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया। शाम को गौरव के चचेरे भाई प्रशांत की तहरीर पर गोदाम मालिक राम लाल, उनके पुत्र संजय व पिंटू पर हत्या का मुकदमा कोतवाली नगर में दर्ज किया गया। इसमें कहा गया है कि व्यापारी अक्सर गौरव को कुछ पैसे के एवज में मजदूरी करने को ले जाता था। शुक्रवार की रात में भी ट्रक से आए माल को उतारने के लिए उसे बुलाया गया था। काम कराने के बाद मजदूरी के विवाद में उसे गोदाम में बंदकर दिया गया। रात में आग लगने से युवक की मौत हो गई। इस मामले में शहर कोतवाल सुरेंद्र प्रसाद का कहना है कि परिजनों की तहरीर के आधार पर पर मुकदमा दर्ज किया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

--

बाहर से बंद था ताला

इस अग्निकांड को लेकर कई सवाल हैं। घटना के वक्त गोदाम में बाहर से ताला बंद था। ऐसे में भला युवक उसमें पहुंचा कैसे और किस मकसद से। कोई कह रहा है कि वह ट्रक से आए माल को मजदूर के रूप में उतारने गया था। कोई कुछ और कह रहा है।

--

सहमे रहे पड़ोसी

आग की लपटें इस कदर उठ रहीं थी कि पड़ोसियों में दहशत छा गई थी। धुएं से बगल के मकान भी गरम हो गए। उनकी पेंटिंग व प्लास्टर तक चटक गए थे। कालिमा उनके कमरों तक पहुंच गई थी। बच्चों को लोग लेकर बाहर निकल आए थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021